जबलपुर। वैश्विक महामारी कोरोना (कोविड 19) के कारण पूरे देश में लॉकडाउन है जिसके कारण ब्लड बैंको में ब्लड की कमी हो रही है व कोरोना से संक्रमित, थेलीसीमिया और ब्लड कैंसर से पीडि़त जरूरतमंदो को समय पर रक्त नही मिल पा रहा। हर जरूरतमंद को मिले रक्त के उद्देश्य से इंडियन रेडक्रॉस सोसायटी और रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय के संयुक्त तत्वावधान में  राष्ट्रीय सेवा योजना के वॉलंटियर्स ने रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय के गेस्ट हाउस में रक्तदान  किया।
इस अवसर पर केंट विधायक अशोक रोहाणी, कुलपति रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय प्रोफेसर कपिल देव मिश्र, कमलेश मिश्र कुलसचिव, डॉ जितेंद्र जामदार उपाध्यक्ष रेडक्रॉस सोसायटी, डॉ. अभिजात कृष्ण त्रिपाठी प्राचार्य जानकीरमण कॉलेज, आशीष दीक्षित  संयुक्त संचालक- सामाजिक न्याय एवं रेडक्रॉस सचिव एवं डॉ अशोक कुमार मराठे कार्यक्रम समन्वयक एनएसएस तथा डॉ आनंद सिंह राणा जिला समन्वयक राष्ट्रीय सेवा योजना,  डॉ.देवांशु गौतम कार्यक्रम अधिकारी और एन एस एस, मुक्त इकाई रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय उपस्थित रहे। जिसमें 32 यूनिट रक्त का संग्रहण किया गया।
इन्होंने किया रक्तदान
डॉ अरुणा रासेयो कार्यक्रम अधिकारी, डॉ रोहित वर्मा रासेयो कार्यक्रम अधिकारी, डॉ देवांशु गौतम रासेयो कार्यक्रम अधिकारी व स्वयंसेवकों में हर्षदेव तंतुवाय, सुयश श्रीवास्तव, प्रतीक जैन, सुबेन्दू मन्ना, अंकित, रोशन प्रजापति, यश, अर्पित, प्रशांत कुमार चापेकर, विक्की, आदि।
18 वर्ष पूर्ण होने पर 7 स्वयंसेवकों ने क्रमश: आशुतोष दुबे (जिनका आज जन्मदिन भी था) सागर गुप्ता, यश लारिया, चेतन रजक, सौरभ विश्वकर्मा, सुमित पटेल और अभिनंदन सोनी ने रक्तदान कर नव युवाओं को प्रेरित किया। रानी दुर्गावती चिकित्सालय के ब्लड बैंक से डॉ. संजय मिश्रा, ब्लड बैंक प्रभारी एल्गिन रक्तकोष एवं उनकी टीम ने रक्त संग्रहण का कार्य किया।