भोपाल । अब रेल या‎त्रियों की टिकट की जांच क्यूआर कोड से होगी। इसके ‎लिए टीसी को टिकट भी हाथ में लेने की जरुरत नहीं होगी, ता‎कि कोरोना वायरस से बचाव हो सके। इसके ‎लिए भोपाल रेल मंडल ने एक ऐप डिजाइन किया है। यह टीटीई स्टाफ के मोबाइल में डाउनलोड है। जब भी ये स्टेशन परिसर में और ट्रेन के अंदर यात्रियों के टिकट जांचते हैं तो ऐप मदद करता है। ऐप टिकट का क्यूआर कोड स्कैन कर लेता है। ऐसा करने से रेलकर्मियों के मोबाइल में यात्रियों के टिकट की पूरी जानकारी आ जाती है। जिसे टीटीई स्टाफ सत्यापित कर लेते हैं। इस तरह यात्रियों का टिकट बिना हाथ में लिए ही टीटीई स्टाफ ऐप के जरिए टिकट की जांच कर रहे हैं। भोपाल रेल मंडल ने सभी टिकट जांचकर्ता रेलकर्मियों के मोबाइल में ऐप को डाउनलोड करवा दिया है। डीआरएम उदय बोरवणकर ने बताया कि इस ऐप के जरिए सभी टिकट जांचकर्ता रेलकर्मी अपनी ड्यूटी से जुड़ी जानकारी भी दर्ज कर सकते हैं। साथ ही जुर्माना वसूली को लेकर की गई कार्रवाई का ब्यौरा भी उसी में दर्ज किया जा सकता है। पूर्व में यह ब्यौरा रजिस्टर में दर्ज करना पड़ता था उसकी वजह से संक्रमण का खतरा था क्योंकि एक ही रजिस्टर को एक से अधिक रेलकर्मी इस्तेमाल करते थे। ऐप बनने के बाद यह समस्या खत्म हो गई है। रेलवे ने ऐप के जरिए दोनों काम चालू कर दिए हैं।बता दें कि भोपाल रेल मंडल ने रेलकर्मियों को कोरोना से बचाने के लिए टीटीई लॉबी बीपीएल ऐप बनाया है। उसी में टिकट जांच के लिए क्यूआर कोर्ड का विकल्प दिया है। उसके जरिए टिकट की जांच की जाती है।