अंबाला । ह‎रियाणा में नशाखोरी और नशा तस्करों को तलाशने के ‎लिए अब कुत्ते मदद ली जा रही है। इसके लिए गृह विभाग 5 करोड़ की लागत से 65 स्निफर डॉग्स खरीदने जा रहा है। बताया गया ‎कि इन स्निफर डॉग्स की मदद से पुलिस हरियाणा की सीमाओं पर पैनी नजर रखेगी ताकि पडोसी राज्यों से हरियाणा में नशा सप्लाई न किया जा सके। दरअसल, हरियाणा में साथ लगते राज्यों से नशा तस्करी की खबरें अक्सर सामने आती हैं, लेकिन अब हरियाणा गृह विभाग ने प्रदेश को नशा मुक्त बनाने की कवायद शुरू कर दी है। इसकी जानकारी देते हुए सूबे के गृह मंत्री अनिल विज ने बताया कि हरियाणा की सीमांओं से नशे को अंदर आने से रोकने के लिए नए स्निफर डॉग्स खरीदे जायेंगे। उन्होंने बताया कि हरियाणा में नशा पैदा नहीं होता ब‎ल्कि हरियाणा में साथ लगते इलाकों से नशा सप्लाई किया जाता है और इन डॉग्स की मदद से सीमाओं पर नजर रखी जाएगी। वहीं प्रदेश के परिवहन मंत्री ने माइनिंग को लेकर सूबे की पुलिस पर बड़े आरोप लगाए हैं। परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने माइनिंग को लेकर यमुना और आस पास के इलाकों के एसपी और कुछ थानों पर मिलीभगत के आरोप लगाए हैं, जिसके जवाब में विज ने भी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि परिवहन मंत्री के आरोपों के जवाब में कहा कि अभी तक उन्हें इस मामले में कोई पत्र प्राप्त नहीं हुआ न ही परिवहन मंत्री का फोन आया, लेकिन अगर शिकायत आएगी तो उस पर कार्रवाई जरूर की जाएगी। दरअसल, हरियाणा में बजट सत्र को लेकर सियासत शुरू हो चुकी है, जहां सरकार प्री बजट बैठक कर सुझाव मांग रही है। वहीं विपक्ष इसे सरकार की खानापूर्ति बताता नजर आ रहा है।