पटना । जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार को  विधायक दल का नेता चुना गया है। नीतीश कुमार भाजपा प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल, जीतनराम मांझी, मुकेश सहनी, आरसीपी सिंह के साथ राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया। नीतीश कुमार सोमवार शाम चार बजे बिहार के नए मुख्यमंत्री के तौर पर सातवीं बार शपथ लेंगे। इससे पहले एनडीए विधायक दल की मीटिंग में विधायकों की सर्वसम्मति से नीतीश कुमार को विधायक दल का नेेता चुना गया। इस बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी मौजूद थे। भाजपा नेता तारकेश्वर प्रसाद एनडीए विधायक दल के उप नेता चुने गए हैं। सुशील कुमार मोदी ने एनडीए विधानमंडल दल की बैठक में ही इसका प्रस्ताव रखा। इनके उप नेता बनने से उप मुख्यमंत्री बनने के लिए प्रबल संभावना तार किशोर प्रसाद की हो गई। सूत्रों के अनुसार बैठक में सुशील कुमार मोदी ने कहा कि 30 सालों में पार्टी ने हमें कई जिम्मेदारियां दी। विधायक दल के नेता, विरोधी दल के नेता से लेकर उप मुख्यमंत्री तक के पद पर रहा। मेरी दिली इच्छा है कि पार्टी का ही कोई विधायक उप नेता बने। उनके इस बयान से यह साफ हो गया कि सुशील मोदी संभवतः मंत्रिमंडल में शामिल नहीं हों। हालांकि अभी इसकी आधिकारिक पुष्टि होनी बाकी है।  नीतीश कुमार सबसे पहले 3 मार्च, 2000 में मुख्यमंत्री बने थे। बहुमत नहीं होने के कारण महज सात दिन बाद ही उनकी सरकार गिर गई थी। नीतीश कुमार 24 नवंबर 2005 में दूसरी बार मुख्यमंत्री बने।
बतौर सीएम उनका ये कार्यकाल 24 नवंबर 2005 से 24 नवंबर 2010 तक चला। 26 नवंबर 2010 को नीतीश कुमार ने तीसरी बार बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। बाद में कार्यकाल के पूरा होने के पहले ही 2014 के लोकसभा चुनाव में हुई पार्टी की करारी हार का जिम्मा लेते हुए उन्होंने इस्तीफा दे दिया था। उस समय जीतन राम मांझी को मुख्‍यमंत्री पद का कार्यभार दिया था। 22 फरवरी 2015 को चौथी बार नीतीश कुमार ने बिहार की कमान संभाली। उन्होंने सीएम के तौर पर शपथ ग्रहण किया। नवंबर 2015 में महागठबंधन ने चुनाव जीता। 20 नवंबर 2015 को नीतीश कुमार पांचवीं बार मुख्यमंत्री बने। इस सरकार में तेजस्वी यादव डिप्टी सीएम बने थे। करीब डेढ़ साल बाद ही नीतीश कुमार ने आरजेडी के साथ गठंबधन तोड़ने का फैसला लिया। फिर बीजेपी के साथ गठबंधन में सरकार बनाई। उस समय 27 जुलाई 2017 को नीतीश कुमार 6वीं बार बिहार के मुख्यमंत्री बने।