नई दिल्ली। वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर चीन के साथ जारी गतिरोध के बीच कल देर रात भारतीय वायुसेना के जवानों ने ऑपरेशन करते हुए अपना जौहर दिखाया है। एयरफोर्स के जवानों ने चिनूक, मिग-29, अपाचे सहित अन्य आधुकनिक तकनीक वाले फाइटर जेट और हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल कर नाइट ऑपरेशन किया।
भारत-चीन सीमा के पास एक फॉरवर्ड एयर बेस में वरिष्ठ फाइटर पायलट ग्रुप कैप्टन ए राठी ने कहा, 'नाइट ऑपरेशन अचानक होता है। भारतीय वायुसेना किसी भी परिस्थिति में आधुनिक प्लेटफार्म और अपने उत्साही जवानों की मदद से ऑपरेशन के पूरी तरह से प्रशिक्षित और तैयार है।'
आपको बता दें कि भारतीय वायु सेना का एक AN-32 परिवहन विमान उत्तराखंड के चिन्यालीसौड़ हवाई पट्टी पर लैंड कराया गया। इसके अलावा भारत-चीन सीमा के पास एक फॉरवर्ड एयरबेस पर चिनूक हेलीकॉप्टर से रात में ऑपरेशन किया गया।
इससे इतर भारतीय वायु सेना के मिग-29 लड़ाकू विमानों ने भारत-चीन सीमा के पास एक फॉरवर्ड एयरबेस पर नाइट ऑपरेशन किया। साथ ही सीमा के पास अपाचे ने भी रात में अपना जौहर दिखाया।