दुर्ग । शंकराचार्य मेडिकल कॉलेज में एक गर्भवती भर्ती थी। उसने एक शिशु को जन्म दिया जिसकी दूसरे दिन मौत हो गई। परिजन ने डॉक्टरों पर इलाज में लापरवाही का आरोप लगाते हुए कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक से शिकायत की है। वृंदानगर ओल्ड बोरसी निवासी जयंत देशमुख ने शिकायत में कहा है कि 1 मई को बालोद निवासी उसकी बहन रीना देशमुख की प्रसूति रोग विशेषज्ञ डॉ. आशा मिश्रा से चेकअप कराया। बहन को 6 मई को दर्द हुआ। उसे कॉलेज के अस्पताल में भर्ती कराया गया। 7 मई को उसे बेटी हुई। डॉक्टर ने उसे ऑक्सीजन पर रखा। दूसरे दिन बच्ची की मौत हो गई। जयंत ने डॉक्टर पर आरोप लगाया है कि बच्ची पैदा हुई थी तब वह स्वस्थ थी। फिर अचानक मौत की घटना डॉक्टर की लापरवाही को प्रदर्शित करता है। श्री देशमुख ने घटना की जांच की मांग की है।