मुंबई। आज के समय में इंडियन फिल्म इंडस्ट्री के कुछ बेहतरीन ऐक्टर्स में से एक माने जाने वाले नवाजुद्दीन सिद्दीकी पिछले काफी समय से अपनी फिल्मों के बजाय अपनी पर्सनल लाइफ के कारण ज्यादा चर्चा में हैं। कुछ दिनों पहले ही नवाज की वाइफ आलिया ने उन पर काफी आरोप लगाते हुए तलाक की मांग की थी। इसी बीच नवाज की फिल्म 'सीरियस मैन' भी रिलीज हुई, जिसे काफी सराहना मिली। हालांकि नवाज का मानना है कि इंडियन फिल्म इंडस्ट्री अभी भी अपने काम की मान्यता विदेशों से चाहता है और इसलिए इंडस्ट्री का नाम (बॉलिवुड) बदल जाए। ये जो उधार का नाम ले रखा है, सबसे पहले हमें ये बदलना चाहिए। गौरतलब है कि इससे पहले ऐक्ट्रेस कंगना रनौत भी ट्वीट कर कह चुकी हैं कि हिंदी फिल्म इंडस्ट्री का नाम बॉलिवुड बदल देना चाहिए क्योंकि यह हॉलिवुड की कॉपी है और इसके इस्तेमाल को भी बैन किया जाना चाहिए।
 नवाजुद्दीन की हालिया रिलीज फिल्म 'सीरियस मैन' को ऑडियंस और क्रिटिक्स की काफी सराहना मिली। इस पर नवाज का कहना है कि शुक्र है इसे लोगों ने पसंद किया वरना जब यहां कि किसी फिल्म को बाहर अवॉर्ड मिलता है, तब यहां के लोग कहते हैं कि अच्छा काम किया है। नवाज ने कहा कि भारत के लोग अभी भी अपने काम पर पश्चिम की मान्यता चाहते हैं और यह चीज अभी तक बदली नहीं है। इंटरनैशनल स्तर पर नवाज की फिल्मों को मिली सरहाना पर उन्होंने कहा, 'हां, यह फैक्ट है। मेरी बहुत सी फिल्म इंटरनैशनल फेस्टिवल्स में गई हैं और उन्हें वहां अवॉर्ड्स भी मिले। लेकिन जब वही फिल्में यहां रिलीज हुई थीं तो उन्हें अच्छा रिस्पॉन्स नहीं मिला। उन्हें यहां तभी सराहना मिली, जब उनको पश्चिम की मान्यता मिल गई। नवाज ने यह भी कहा कि उन्हें बाहर की फिल्मों के ऑफर मिलते हैं, लेकिन वह केवल शोर-शराबा करने के बजाय इंडिया में ही काम करके खुश हैं।