कोरोना महामारी के बढ़ते मरीजों के बेहतर इलाज के लिए शासन-प्रशासन के साथ हर स्तर पर व्यापक इंतजाम किए जा रहे हैं। कोरोना के इलाज में संजीवनी का काम कर रहे रेमेडेसिवीर इंजेक्शन की डिमांड लगातार बढ़ती जा रही है, लेकिन ऐसे मरीज जो इस इंजेक्शन को बाजार से खरीदने में सक्षम नहीं हैं, इन मरीजों के लिए जिले के सांसद राकेश सिंह ने सांसद निधि से 5 हजार रेमेडेसिवीर इंजेक्शन उपलब्ध कराने की घोषणा की है।

श्री सिंह ने बताया कि रेडक्रॉस सोसायटी के जरिए सांसद निधि से डेढ़ करोड़ के इंजेक्शन खरीदे जाएँगे और जरूरतमंद मरीजों को नि:शुल्क प्रदान होंगे। श्री सिंह ने कहा कि इन इंजेक्शन्स की पूरी मात्रा में तत्काल उपलब्धता हो और जरूरतमंदों के इलाज में इनकी कोई कमी हो, इसके लिए हर संभव प्रयास किए जाएँगे।

सभी कंपनियों से बात की- सांसद राकेश सिंह ने उन सभी कंपनियों के वरिष्ठतम अधिकारियों से बात की, जो रेमेडिसिवर इंजेक्शन बनाती हैं। उन्होंने कंपनियों से कहा कि जबलपुर को जो सप्लाई मिल रही है, उसके अलावा ये इंजेक्शन दिए जाएं ताकि कमी दूर हो सके। सांसद ने बताया कि कंपनियां राजी हो गईं हैं। वो एक-एक हजार कर के इंजेक्शन की आपूर्ति करेंगी।

इसी तरह केंट विधायक अशोक रोहाणी ने कोरोना महामारी से पीड़ित गंभीर मरीजों के इलाज को लेकर कलेक्टर कर्मवीर शर्मा को विधायक निधि से 15 लाख रुपए की राशि का चैक सौंपा। श्री रोहाणी ने बताया कि इस राशि का उपयोग मरीजों के उपचार के साथ नए आईसीयू बेड तैयार करने में किया जाएगा। श्री रोहाणी ने कलेक्टर से चर्चा के दौरान केंट विधानसभा क्षेत्र के अम्बेडकर और गोकलपुर वार्डों में पट्टा वितरण प्रक्रिया पूरी कराने और मोहनिया में उद्योग स्थापित करने के लिए भूमि हस्तांतरण के लिए भी पत्र सौंपा। इस मौके पर रिंकू विज, दामोदर सोनी, गुड्डा केवट, आशीष राव, संजय ठाकुर, बाबा श्रीवास्तव, निशांत झारिया अन्य मौजूद रहे। पी-2