आगरा । जिले के सदर क्षेत्र में रामतेज हॉस्पिटल के पास शुक्रवार की रात एक नाबालिग बेटे ने मां के आशिक को पीट-पीटकर मार डाला। फावड़े से उसके चेहरे और गर्दन पर प्रहार किए। महिला ने पति को छोड़ दिया था। प्रेमी के साथ ही रहती थी। बेटे को यह रिष्ता कतई पसन्द नहीं था। उसने मां से कई बार कहा भी लेकिन मां नहीं मानी तो उसके आशिक की हत्या कर दी। पुलिस ने घटना के कुछ देर बाद ही हत्यारोपी को पकड़ लिया। 
एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद के मुताबिक रामतेज हॉस्पिटल ताजगंज क्षेत्र में आता है। उसके पास बस्ती में घटना हुई है। बस्ती सदर थाना क्षेत्र में आती है। मीना नाम की महिला अपने रिश्ते के मामा बाबू पुत्र मंगलदास के साथ रहने लगी थी। मीना ने अपने पति जॉन पप्पू को छोड़ दिया था। मीना का 17 वर्षीय बेटा भी साथ रहता था। रात को बाबू ने नशे में मीना के साथ मारपीट की थी। उससे शराब के लिए रुपये मांग रहा था। बेटे को पहले से मां का बाबू के साथ रहना पसंद नहीं था। रात को मां के साथ मारपीट हुई तो वह आक्रोशित हो गया। उसने सोते समय बाबू पर हमला बोल दिया। हत्या के बाद मौके से भाग गया। छोटे नाम के एक व्यक्ति ने वारदात को देखा। हत्यारोपी किशोर ने पुलिस का बताया कि उसने गुस्से में मार डाला। बाबू के कारण उसका परिवार टूट गया था। वह मां के साथ मारपीट करता था। जान पहचान के लोग भी उसका और उसकी मां का मजाक उड़ाया करते थे। जानकर उसे बाबू का लड़का बोलकर चिढ़ाते थे।