मुंबई. बृहन्मुंबई म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन (BMC) के एक अधिकारी ने बताया कि एशिया के सबसे बड़े झुग्गी बस्ती इलाका माने जाने वाले मुंबई के धारावी (Dharavi) में बुधवार को 66 नए मरीजों (patients) की संख्या बढ़कर 1,028 हो गई.

उन्होंने कहा कि इलाके में महामारी (Pandemic) के कारण मरने वालों की संख्या 31 से मंगलवार को बढ़कर 40 हो गई, लेकिन इसके बाद कोई नई कोविड-19 (COVID-19) संबंधित मौत नहीं हुई.

अलग-अलग दिनों में हुईं ये 9 मौतें, सूचना मंगलवार को मिली
बीएमसी के अधिकारियों (BMC Officers) ने बताया कि ये नौ मौतें अलग-अलग तारीखों में हुई थीं, लेकिन सूचना मंगलवार को मिली.

मुंबई में कोरोना वायरस संक्रमण का पहला मामला सामने आने के 20 दिन बाद धारावी में 1 अप्रैल को कोरोना वायरस (Coronavirus) का पहला मामला रिकॉर्ड किया गया था.
पिछले दो दिनों में सामने आए 112 मामले
देश के सबसे बड़े झुग्गी बस्ती इलाके मुंबई के धारावी (Dharavi) में कोरोना वायरस संक्रमण का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है. यहां लगातार कोविड-19 संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी हो रही है. पिछले 24 घंटों में इस झुग्गी बस्ती इलाके में कोविड-19 संक्रमण के 66 मामले सामने आए हैं. जबकि मंगलवार को भी यहां 46 नए मामले सामने आए थे.

यानी पिछले दो दिनों में सिर्फ धारावी से ही कोरोना वायरस संक्रमण के कुल 112 मामले सामने आ चुके हैं. वहीं पिछले कुछ दिनों में यहां कोरोना वायरस से 9 और मौतें हुई हैं. जिसके आंकड़े बुधवार को जारी किए गए.

अब इस इलाके में कोरोना वायरस के कुल मामले बढ़कर 1000 से ज्यादा हो गए हैं. वहीं इसके संक्रमण (Infection) से इलाके में मरने वालों की कुल संख्या बढ़कर 40 हो चुकी है.

कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र (Maharashtra) में कोरोना वायरस के अब तक कुल 24427 मामले सामने आ चुके हैं. जिनमें से 921 मरीजों की कोविड-19 संक्रमण से मौत हुई है. वहीं 5125 मरीज स्वस्थ होकर अपने घरों को वापस जा चुके हैं. अब राज्य में कोरोना वायरस के 18381 एक्टिव केस हैं.