बिहार | बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान में अब कुछ ही दिन बाकी है. राजनीतिक दलों ने अपने प्रचार में जान फूंक दी है और इसी कड़ी में आज दिग्गज चुनावी मैदान में कूद रहे हैं. शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सासाराम में अपनी पहली सभा की, इस दौरान पीएम के साथ नीतीश कुमार भी रहे. पीएम ने यहां राजद और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. 

  • लालू परिवार पर पीएम मोदी का हमला- पीएम मोदी ने कहा कि जब उनको सत्ता से बेदखल किया गया तो ये लोग बौखला गए. राजद ने दस साल तक यूपीए सरकार का हिस्सा रहते हुए बिहार के लोगों पर गुस्सा निकाला. राजद ने नीतीश जी के दस साल बेकार कर दिए, बाद में जब 18 महीने की सरकार बनी तो परिवार ने क्या-क्या खेल किया सबको पता है. जब नीतीश जी इस खेल को समझ गए तो उन्होंने सत्ता छोड़ने का फैसला लेना पड़ा, बिहार के भविष्य के लिए हम फिर नीतीश जी के साथ आए हैं. पीएम मोदी ने कहा कि मेरे पीएम बनने के बाद बिहार और दिल्ली सरकार ने तीन साल तक मिलकर काम किया है, अब हमारी सरकार आत्मनिर्भर बिहार के निर्माण में जुटे हैं. 
  • 370 के मसले पर विपक्ष को घेरा- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने का फैसला लिया, लेकिन अब ये लोग इसे पलटना चाहते हैं. विपक्ष कह रहा है कि सत्ता में आने पर फिर से अनुच्छेद 370 को लागू कर देंगे. पीएम ने कहा कि ये लोग किसी की भी मदद ले लें, लेकिन देश अपने फैसलों से पीछे नहीं हटेगा. 
  • किसान बिल पर फिर बोले पीएम मोदी- पीएम मोदी ने अपनी रैली में कहा कि जो लोग सरकारी नौकरी में रिश्वत खाते थे, वो फिर बिहार को ललचाई हुई नजरों से देख रहे हैं. बिहार के नौजवानों को याद रखना है कि राज्य को मुश्किलों में डालने वाले कौन थे. पीएम बोले कि पहले यहां राशन लूट लिया जाता था, लेकिन अब हमारी सरकार गरीबों को मुफ्त में राशन दे रही है. पीएम ने कहा कि आज देश आगे बढ़ रहा है, लेकिन ये लोग विकास में रोड़ा बन रहे हैं. जब देश ने किसानों के हक में फैसला लिया, तो ये लोग बिचौलियों को बचाने में लगे हैं. पीएम ने कहा कि इनके लिए देशहित नहीं, दलालों का हित अधिक महत्वपूर्ण है. 
  • बिहार में विपक्ष पर बरसे पीएम मोदी- पीएम ने कहा कि अगर बिहार में तेजी से काम ना हुआ होता तो काफी लोगों की जान चली जाती. अमीर से अमीर देश इससे नहीं बच पाए हैं. बिहार के लोग कभी कन्फ्यूज़ नहीं होते हैं, फिर एक बार एनडीए सरकार बनने जा रही है. पीएम मोदी ने कहा कि कुछ लोग भ्रम फैलाने में लग जाते हैं और अचानक नई शक्ति को बढ़ाते हैं लेकिन इसका कोई असर नहीं पड़ता. बिहार का मतदाता भ्रम फैलाने वालों को खुद ही नाकाम कर रहा है. पीएम मोदी बोले कि जिनका इतिहास बिहार को बीमारू बनाने को उन्हें आसपास भी नहीं भटकने देंगे. पीएम मोदी ने कहा कि बिहार के सपूत गलवान घाटी में शहीद हो गए, लेकिन भारत माता का सिर नहीं झुकने दिया. ऐसा ही पुलवामा के हमले में हुआ था. पीएम मोदी ने कहा कि लालटेन का जमाना गया और बिहार में बिजली की खपत तीन गुना बढ़ गई है. पहले बिहार में सूरज ढलने का मतलब होता था, सबकुछ बंद हो जाना. आज बिजली है.. रोशनी है.. और ऐसा माहौल है जिसमें बिहार का नागरिक आराम से रह सकता है. पहले यहां बिहार में सरकार चलाने वालों के सामने हत्या, डकैती होती थी.  
  • सासाराम में पीएम मोदी का संबोधन- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सासाराम रैली में अपना संबोधन भोजपुरी भाषा में शुरू किया. पीएम ने सबसे पहले रामविलास पासवान और रघुवंश प्रसाद सिंह को श्रद्धांजलि दी. बिहार के लोग कोरोना वायरस महामारी का सामना कर रहे हैं, नीतीश जी की अगुवाई में बिहार आगे बढ़ रहा है. 
  • सासाराम रैली में नीतीश कुमार का संबोधन- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सासाराम पहुंच गए हैं. यहां रैली में सबसे पहले नीतीश कुमार ने संबोधन दिया. नीतीश कुमार ने अपने संबोधन में कहा कि पीएम मोदी की अगुवाई में देश में कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ी गई, बिहार में केंद्र द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन किया. केंद्र के सहयोग से दूसरे राज्य में फंसे लोगों को बिहार वापस लाया गया. नीतीश कुमार ने कहा कि केंद्र की ओर से राशन, सिलेंडर, शौचालय की सुविधाओं को दिया गया. नीतीश कुमार बोले कि बिहार सरकार ने कोरोना के दौर में दस हजार करोड़ से अधिक खर्च किया है, बाहर से आए लोगों को आर्थिक मदद दी गई है. नीतीश बोले कि पहले 15 साल यहां क्या हाल रहा, हमारी सरकार ने मेडिकल कॉलेज खोले और अब केंद्र ने भी काफी सहयोग किया है. बिहार में अपराध का आंकड़ा कम कर दिया है, कानून व्यवस्था तेजी से सुधर रही है. राजद पर निशाना साधते हुए नीतीश ने कहा कि जब उनकी सरकार थी तो बिहार का बजट 24 हजार करोड़ का था, अब दो लाख करोड़ से अधिक का बजट हो गया है. अब हर गांव में सोलर लाइट लगाई जाएगी, हर खेत तक पानी और नई तकनीक से खेती को बढ़ावा देंगे.