मुंबई: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह लगातार दावा कर रहे हैं पिछले चुनाव के मुकाबले एनडीए लोकसभा चुनाव 2019 (Lok sabha elections 2019) में ज्यादा सीटों के साथ सत्ता में आएगी. वहीं छठे चरण की वोटिंग के दौरान ही एनडीए के घटक दल आरपीआई के अध्यक्ष रामदास अठावले ने महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश में एनडीए की सीटें घटने की बात कह दी है. एनडीए खेमे में दलित चेहरा और पीएम मोदी के कैबिनेट के अहम सदस्य रामदास अठावले ने कहा है कि महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश में एनडीए की सीटें कम होंगी. हालांकि उन्होंने ये भी दावा किया है कि केंद्र में एनडीए की ही सरकार बनेगी.

महाराष्ट्र के लातूर में शनिवार को रामदास आठवले एक चुनावी कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे. आठवले ने कहा कि अकेले भाजपा को 260 से 270 सीटें मिल सकती हैं. एनडीए को मिलकर 300 से 325 सीटें मिलेंगी. आठवले ने यह कहा की नरेंद्र मोदी का फिर से प्रधानमंत्री बनना तय है. साथ ही उन्होंने खुद के एक बार फिर से मंत्री बनने की भी भविष्यवाणी कर दी. आठवले ने कहा कि आडिशा, पश्चिम बंगाल और दक्षिण भारत में बीजेपी को अच्छी सीटें मिलेंगी.

महाराष्ट्र में एनडीए का हिस्सा रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया(ए) ने महाराष्ट्र में बीजेपी प्रत्याशियों के सामने अपने उम्मीदवार खड़े कर दिए हैं. रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (ए) के अध्यक्ष और मोदी कैबिनेट में केंद्रीय सामाजिक न्याय मंत्री रामदास आठवले ने खुद ऐलान किया है कि उनकी पार्टी ने मध्य प्रदेश की 5 सीटों पर प्रत्याशी उतारे हैं. अठावले ने अपनी पार्टी के प्रत्याशियों के नाम का भी ऐलान किया है, जो इस प्रकार है-

सीधी लोकसभा सीट: रामकृपाल बसोर
जबलपुर लोकसभा सीट: कुलदीप अहिरवार
मुरैना लोकसभा सीट: पतिराम शाक्य
सतना लोकसभा सीट: रामनिवास सेन
रतलाम लोकसभा सीट: उदय सिंह मचार

रामदास अठावले ने मध्य प्रदेश में अपनी पार्टी के उम्मीदवारों के नाम का ऐलान करते हुए कहा कि उनका बीजेपी से कोई झगड़ा नहीं है. मध्य प्रदेश में बीजेपी से गठबंधन नहीं होने के चलते उन्होंने पांच सीटों पर प्रत्याशी उतारे हैं. उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश की बाकी की 24 सीटों पर बीजेपी प्रत्याशी का समर्थन करेंगे.