मेलबर्न । ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की तरीफ करते हुए कहा कि यह एक प्रकार से छोटा विश्वकप ही है। मैक्सवेल के अनुसार आईपीएल में दुनिया भर के खिलाड़ियों को प्रतिस्पर्धा का अच्छा अवसर मिलता है। इसमें शामिल खिलाड़ियों को एक दूसरे से कड़ी टक्कर मिलती है जिससे उनका खेल बेहतर होता है। मैक्सवेल ने कहा, ‘आपको आईपीएल पर इंतजार करना होगा, अन्य लोगों के फैसले का इंतजार करना होगा कि यात्रा और पृथकवास समय और अन्य चीजों के बारे में आप क्या कर सकते हो और क्या नहीं। अगर सबकुछ सही रहता है तो इसमें भाग नहीं लेने का कोई कारण नहीं बचता है। उन्होंने कहा, ‘विदेशी खिलाड़ियों को इसमें खेलकर काफी रोमांच का अनुभव होता है इसमें विश्व कप की तरह दुनिया के कुछ सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी मुकाबला करते हैं।'
मैक्सवेल को इंग्लैंड दौरे के लिए ऑस्ट्रेलिया की 26 सदस्यीय टीम में शामिल किया गया है। इस 31 वर्षीय खिलाड़ी ने पिछले साल मानसिक स्वास्थ्य और थकान का मामला उठाते हुए कुछ समय के लिए ब्रेक भी लिया था। मैक्सवेल ने कहा कि वह इस दौरान राष्ट्रीय कोच जस्टिन लैंगर के संपर्क में रहे। उन्होंने कहा, ‘कोरोन काल के समय घर पर रहने का मैंने पूरा लाभ उठाया और इससे मैं शारीरिक व मानसिक  रूप से तरोताजा हो गया हूं।