भोपाल : 'मराठी भाषा गौरव दिवस' के अवसर पर 'मराठी सुमधुर गायन संध्या' का आयोजन रविंद्र भवन में 27 फरवरी को शाम 6:30 बजे किया जाएगा। 'गमक' श्रृंखला के अंतर्गत इस गायन संध्या में स्वरांजलि कल्चर सोशल वेलफेयर सोसाइटी स्वर्गंधार संगीत कला अकादमी और विजय श्री संगीत विद्यालय के कलाकारों द्वारा देशभक्ति, भक्ति संगीत, भावगीत एवं लोकगीतों की प्रस्तुति दी जाएगी।

मराठी साहित्य अकादमी के निदेशक श्री एच.आर. अहिरवार ने बताया कि मराठी भाषा के श्रेष्ठ कवि ज्ञानपीठ पुरस्कार से अलंकृत श्री विष्णु वामन शिरवाडकर उर्फ कुसुमाग्रज के जन्म दिवस के अवसर पर गायन संध्या का आयोजन किया जा रहा है। श्री कुसुमाग्रज का सांस्कृतिक क्षेत्र में अतुलनीय योगदान है। उनके द्वारा मराठी भाषा को ज्ञान भाषा बनाने में अथक परिश्रम किया गया है। इस अतुलनीय योगदान के कारण ही श्री कुसुमाग्रज के जन्मदिवस को मराठी भाषा गौरव दिवस के रूप में मनाया जाता है।