इन्दौर । आगामी 19 मई को इंदौर में होने वाले लोकसभा चुनाव के लिये इंदौर के कवियों ने भी आम मतदाताओं को कविताओं के माध्यम से मतदान करने के लिये प्रेरित किया। शुक्रवार को सूचना और प्रसारण मंत्रालय के सी.जी.ओ. भवन, इंदौर स्थित क्षेत्रीय लोक सम्पर्क ब्यूरो (फील्ड आऊटरीच ब्यूरो) में मतदाता, मतदान और लोकतंत्र विषय पर केंद्रित आयोजित इस कवि गोष्ठी में वरिष्ठ साहित्यकार हरेराम वाजपेयी, सदाशिव कौतुक, प्रदीप नवीन, मुकेश इंदौरी, संतोष मोहंती, पारितोष दीक्षित और मधुकर पवार ने रचनाओं के माध्यम से मतदाताओं से अपील की कि वे 19 मई को अपने मताधिकार का उपयोग जरूर करें और जिस तरह इंदौर पूरे देश में स्वच्छता के क्षेत्र में अव्वल है और अपनी एक अलग पहचान बनाए है, उसी तरह मतदान में भी देश में पहले स्थान पर आये। 
कवि गोष्ठी का आगाज मुकेश इंदौरी ने आओ हम सब मतदान करें शीर्षक कविता से किया। उन्होने आगे पढ़ा .......खुद जागे और औरों को जगायें - दुनिया में भारत का मान बढ़ायें। प्रदीप नवीन ने मतदाताओं का आह्वान किया कि ... डायरी में नोट करें... सबसे पहले वोट करें। उन्होने मतदाताओं को प्रलोभन में नहीं आने की भी हिदायत देते हुये  “ चुनो उसे जो लायक हो “ कविता के माधयम से कहा “ज्यादा हो मतदान को निकलता है निष्कर्ष। सदाशिव कौतुक ने “देश बनाओ” कविता पढ़ी... अपने वोट की ताकत से शक्तिशाली देश बनाओ... नर भारत है नारी माता... दोनो मिलकर बने भारत माता... स्याही से ऊंगली पर तिलक लगाओ। मधुकर पवार ने मतदान महादान कविता में मतदाता के अधिकार की बात कही... मेरे पास भी है अनमोल रत्न मेरा मत। उन्होने मतदान पर दो क्षणिकायें भी पढी। आकाशवाणी भोपाल के संवाददाता परितोष दीक्षित ने भी अपनी रचनाओं का वाचन किया। हरेराम वाजपेयी ने संचालन और शत प्रतिशत मतदान करने की पहल करते हुये ये पंक्तियां पढ़ी... मतदान से होता नायक का चयन... मतदान खोलता सच्चाई का नयन ..दुनिया जिसका अभिनंदन करती.. ऐसे प्रतिनिधि चुने ये ध्यान कर मतदान करें। इसी अवसर पर सभी साहित्यकारों ने क्षेत्रीय लोक सम्पर्क ब्यूरो द्वारा चलाये जा रहे मतदाता हस्ताक्षर अभियान के तहत हस्ताक्षर किये। सहायक निदेशक मधुकर ने आभार माना।