नई दिल्ली । दुनिया के महान बल्लेबाजों में शुमार वेस्टइंडीज के पूर्व क्रिकेटर ब्रायन लारा ने मुंबई इंडियंस के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की तारीफ की। उन्होंने कहा कि वह अपने समय के बेहतरीन गेंदबाज हैं। यह पूछे जाने पर कि क्या वह बुमराह का मुकाबला करना चाहेंगे तो उन्होंने मुस्कुराते हुए जवाब दिया कि उनकी जगह वह कपिल देव, जवागल श्रीनाथ और मनोज प्रभाकर के भारतीय आक्रमण का सामना करना पसंद करेंगे। उन्होंने कहा मुझे लगता है कि मैं बुमराह के बजाय कपिल देव, श्रीनाथ और मनोज प्रभाकर का सामना करना पसंद करूंगा। उन्होंने कहा लेकिन हां, चुनौती असाधारण होगी। आपको पता है कि मेरे खेलने के दिनों में मखाया एंटिनी जैसे खिलाड़ी थे, जिनकी गेंदबाजी में इसी तरह की धार थी। इसलिए जिन लोगों के खिलाफ मैं खेला, उनकी कुछ तुलना हो सकती है। मुझे पता है कि मैं पीछे नहीं हटूंगा। बुमराह के पास फिलहाल आईपीएल-13 की पर्पल कैप है। उन्होंने अब तक 14 मैचों में 13.92 के औसत से 27 विकेट झटके हैं, जिनमें उनका इकॉनमी रेट 6.71 का रहा। 
लारा ने कहा कि बुमराह और राजस्थान रॉयल्स के पेसर जोफ्रा आर्चर की गिनती क्रिकेट के किसी भी युग में बेस्ट के तौर पर की जा सकती है। उन्होंने कहा बुमराह और आर्चर क्रिकेट के किसी भी युग में सर्वश्रेष्ठ के तौर पर गिने जा सकते हैं। चाहे वे 2000 का दशक हो, 90, 80 या 70 के दशक में भी खेल रहे होते। ये दोनों किसी भी युग में तेज गेंदबाजी में टॉप पर रहेंगे, जो मैंने देखा, खेला और देख रहा हूं।
क्रिकेट के छोटे और लंबे फॉर्मेट में भारत के बुमराह और मोहम्मद शमी की सफलता के कारणों के बारे में बताते हुए लारा ने कहा उन्होंने टी20 में टेस्ट मैच वाली लेंथ पर गेंदबाजी की है। उन्होंने कहा बुमराह और शमी इतने सफल क्यों हैं, क्योंकि वे टी20 में टेस्ट मैच की लेंथ पर गेंदबाजी करते हैं। आप उन्हें लगातार धीमी गेंद करते हुए नहीं देखेंगे। वे सीम पर हिट करने की कोशिश करते हैं, स्टंप्स पर निशाना लगाते हैं या बल्ले का किनारा लेने का प्रयास करते हैं।