मुंबई  । बॉलिवुड में सुशांत को नेपोटिज्म, खेमेबाजी और परेशान किए जाने का शिकार होने का आरोप लगाने वाली ऐक्ट्रेस कंगना रनौत ने कहा है कि उन्हें पूछताछ किए जाने या बयान दर्ज कराने के लिए मुंबई पुलिस से कोई बुलावा नहीं आया है। बता दें कि सुशांत की आत्महत्या के बाद  कंगना ने बॉलिवुड के कुछ लोगों पर आरोप लगाते हुए कहा था कि यह सुशांत की आत्महत्या नहीं बल्कि 'प्लैन्ड मर्डर' है। हालांकि कंगना ने यह भी कहा है कि जब भी मुंबई पुलिस उनसे जांच में किसी भी तरह का सहयोग मांगेगी तो वह पूरी तरह मदद करने को तैयार हैं। अब देखना होगा कि पुलिस कंगना को भी बयान दर्ज करने या पूछताछ के लिए बुलाती है या नहीं। दरअसल कंगना के नेपोटिजम के आरोप बेहद सनसनीखेज हैं जिसके बाद माना जा रहा है कि पुलिस प्रफेशनल राइवलरी के ऐंगल से जांच करते हुए कंगना से भी पूछताछ कर सकती है। कंगना से पहले डायरेक्टर शेखर कपूर ने भी सुशांत की आत्महत्या के मामले में कुछ ऐसे ही आरोप लगाए थे। बॉलिवुड ऐक्टर सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद से उनके फैन्स और फिल्म इंडस्ट्री का एक धड़ा कई तरह के आरोप लगा रहे हैं। इन आरोपों को ही देखते हुए इस आत्महत्या के केस की जांच तुरंत मुंबई पुलिस को सौंप दी गई। मुंबई पुलिस ने मामले की जांच करते हुए अभी तक 28 लोगों से पूछताछ की है और उनके बयान दर्ज किए हैं। इसके अलावा पुलिस अभी और भी लोगों को पूछताछ के लिए बुलाएगी। कहा जा रहा है कि मामले में मुंबई पुलिस मशहूर डायरेक्टर संजय लीला भंसाली, शेखर सुमन और कंगना रनौत को भी बुला सकती है।