काबुल । अफगानिस्तान में जिस तालिबान पर नकेल कसने के लिए दुनिया की सुपरपावर तक परेशान है, 16 साल की कमर गुल ने उसको सबक सिखाकर मिसाल पेश की है। इस केस में अब एक और अहम जानकारी भी सामने आई है कि गुल ने जिन दो तालिबानियों को मार डाला था, उनमें से एक उसका पति था। पहले की रिपोर्ट्स में दावा किया गया था कि तालिबानी गांववालों से वसूली करने आए थे, जबकि दूसरों का कहना था कि गुल के पैरंट्स सरकार का समर्थन करते थे। इसलिए उन्हें निशाना बनाया गया। हालांकि, रिश्तेदार और स्थानीय रिपोर्ट्स का कहना है कि गुल का पति उसे जबरदस्ती वापस ले जाने आया था। बता दें कि 17 जुलाई को रात एक बजे अफगानिस्तान के घोर प्रांत में पिछले हफ्ते ये तालिबान आतंकवादी गुल के घर में घुस गए उनके माता-पिता को मार डाला। इसके बाद कमर गुल बाहर निकलीं और एके-47 से ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी जिसमें दो लड़ाके मारे गए। अब पता चला है कि गुल के पिता शाह गुल रहीमी ने 2016 में गुल की शादी मोहम्मद नईम से की थी और उन्होंने खुद नईम की भतीजी से अपनी दूसरी शादी रचाई थी।