जमशेदपुर/चाईबासा/खरसावां. कोल्हान प्रमंडल के तीन जिलों पूर्वी सिंहभूम, पश्चिमी सिंहभूम और सरायकेला-खरसावां में अब तक 789 कोरोनावायरस के संक्रमित मरीज मिल चुके हैं। इनमें 435 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं जबकि प्रमंडल के तीनों जिलों में अब 354 कोरोना के एक्टिव केस रह गए हैं। स्वस्थ होने वाले मरीजों में पूर्वी सिंहभूम के 324, पश्चिमी सिंहभूम के 67 और सरायकेला-खरसावां के 44 मरीज शामिल हैं।

उधर, कोल्हान प्रमंडल के पश्चिमी सिंहभूम जिले में अब तक 74 कोरोना संक्रमित मिले हैं। जिले के सभी संक्रमितों को कोविड 19 स्पेशलिस्ट रेलवे अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती किया गया है। वहीं सरायकेला खरसावां जिले में अब तक 96 कोरोना संक्रमित मिले हैं। सभी प्रवासी मजदूर हैं। सभी संक्रमितों को कोविड-19 अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पूर्वी सिंहभूम में 34 नए केस, इनमें 12 संक्रमित के संपर्क में आने से पॉजिटिव
पूर्वी सिंहभूम में बुधवार को 34 नए मरीज मिले और 4 ठीक होकर घर लौट गए। जिले में कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 620 हो गई है। वहीं,अब तक 324 स्वस्थ हो चुके हैं। अब एक्टिव केस 286 हैं। नए मरीजों में 5 की ट्रैवल हिस्ट्री है, जबकि 12 संक्रमित के संपर्क में आने से पॉजिटिव हुए हैं। नए मरीजों में जिला खनन पदाधिकारी का बिष्टुपुर निवासी ड्राइवर है। जबिक टिनप्लेट निवासी 5 पॉजिटिव में मां, दो बेटियां व बेटा-बहू शामिल हैं। यह परिवार संक्रमित के संपर्क में आने से पाजिटिव हुआ है। इनका जुड़ाव खनन विभाग से है। 

अब तक मिले मरीजों में 137 की ट्रैवल न काॅन्टैक्ट हिस्ट्री
जमशेदपुर शहर और आसपास के इलाकों में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैला है। कर्मियों के पॉजिटिव मिलने पर टाटा स्टील एसटीपी मिल के बाद सिक्युरिटी विभाग व एसएनटीआई को बंद करना पड़ा है। वहीं जुस्को, पिगमेंट, टीजीएस और लांग प्रोडक्ट के अधिकतर विभाग भी बंद कर सभी कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम किया गया है। पिछले सात दिनों में शहर में 188 मरीज मिले हैं। यह इसके पहले 57 दिनों से मिले मरीजों की औसत से करीब दोगुना है। कुल 527 पॉजिटिव में से 137 की न तो कॉन्टैक्ट हिस्ट्री है, न ट्रैवल हिस्ट्री। इनमें 93 पिछले 10 दिनों में मिले हैं। जिले में पहला मरीज 12 मई को मिला था। 12-31 मई तक हर दिन औसतन 5.03 की दर से कुल 106 मरीज मिले। इसी प्रकार 1 से 10 जून तक हर दिन औसतन 10.6 की दर से 107, 11 से 20 जून तक 10.1 की दर से 101, 21-30 जून तक 8.3 की दर से कुल 83 मरीज मिले।

दूसरे राज्य से आने वालों को पास दिखाने पर ही जिले में मिलेगी इंट्री
बढ़ते संक्रमण को देखते हुए प्रशासन ने नियमों को और सख्त कर दिया है। अब दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों को वहां का इंट्री पास दिखाने के बाद ही जिले में प्रवेश मिलेगा। डीसी रविशंकर शुक्ला ने अधिकारियों के साथ बैठक में यहा निर्देश दिया। नेताओं के शिलान्यास और उद्घाटन पर पाबंदी रहेगी। बाजारों में शाम चार से रात नौ बजे तक इंसीडेंट कमांडर व थाना प्रभारी जांच अभियान चलाएंगे। दुकान के सामने पांच से ज्यादा लोगों के जुटने और सोशल डिस्टेंसिग का उल्लंघन होने पर दुकानदार पर केस दर्ज होगा। नियम नहीं मानने वाले हिरासत में लेकर कैंप जेल में रखे जाएंगे।

बैंक्वेट हॉल व सामुदायिक भवन में कार्यक्रम पर रोक
बैंक्वेट हॉल व सामुदायिक भवनों में किसी भी तरह के कार्यक्रम के आयोजन पर रोक लगा दी गई है। वहीं, नेताओं के शिलान्यास व उद्धाटन आदि पर भी रोक लगा दी गई है। डीसी ने कंटेनमेंट जोन के अधिक से अधिक लोगों का सैंपल जांच के लिए भेजने का निर्देश दिया।