नई दिल्ली |  2008 में इंडियन प्रीमियर लीग(आईपीएल) के शुरू होने के बाद से ही अनगिनत युवा भारतीय खिलाड़ी इसमें शानदार प्रदर्शन कर टीम इंडिया में अपनी जगह पक्की करते रहे हैं। हार्दिक पांड्या, क्रुणाल पांड्या, ईशान किशन जैसे कई ऐसे नाम हैं, जो आईपीएल में अपनी चमक बिखरने के बाद ही नेशनल टीम में जगह बना पाए। इस लिस्ट में एक नाम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के देवदत्त पडीक्कल का भी है, जो बेशक नेशनल टीम में जगह नहीं बना पाए हों, लेकिन पिछले साल यूएई में हुए आईपीएल में उनके बल्ले से जमकर रन बरसे थे। इस साल उनका अपनी टीम की तरफ से पहला मैच खेलना मुश्किल है क्योंकि वे कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। उनके पहले मैच मे उपलब्ध न होने से विराट कोहली केरल के युवा बल्लेबाज मोहम्मद अजहरुद्दीन को मौका दे सकते हैं।
विराट की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को आईपीएल 2021 में अपना पहला मैच पांच बार की चैम्पियन मुंबई इंडियंस से 9 अप्रैल को खेलना है। यह मैच चेन्नई के एम ए चिदंबरम स्टेडियम में खेला जाएगा। देवदत्त पडीक्कल के पहले मैच में फिट न होने की सूरत में कप्तान विराट युवा मोहम्मद अजहरुद्दीन के साथ पारी की शुरुआत कर सकते हैं। अजहरुद्दीन के करियर पर नजर दौड़ाई जाए तो वे इस साल सैय्यद मुश्ताक अली ट्रॉफी में केरल टीम की तरफ से शतक जड़कर सुर्खियों में आए थे।
उन्होंने इस टूर्नामेंट के पांच मैचों में 53.50 की शानदार औसत से 214 रन जड़े थे। खास बात यह है कि उनका इस दौरान स्ट्राइक रेट 194.54 का रहा था, जो कि बेहतरीन है। उन्होंने एक मैच में मात्र 54 गेंदों पर 137 रनों की धुआंधार पारी खेली थी। इसके बाद आईपीएल ऑक्शन में आरसीबी ने उन्हें उनके बेस प्राइज 20 लाख रुपये में खरीदा था। आरसीबी टीम की तरफ से चुने जाने के बाद अजहरुद्दीन ने कप्तान विराट कोहली की जमकर तारीफ की थी। उन्होंने कहा था कि अगर उन्हें विराट के साथ पारी का आगाज करने का मौका मिला तो यह उनके बहुत बड़ी बात होगी।