जयपुर । सरकार की ओर से लागू जनअनुशासन पखवाड़ा के बीच लोगों ने सरकार की उस गाइडलाइन को नजरअंदाज करना शुरू कर दिया था जिसमें कहा गया है कि बेवजह बाजार ना निकले लोग। लोगों ने इस गाइडलाइन को नजर अंदाज करते हुए बाजारों में भीड बढ़ा दी जिसके चलते पुलिस ने सख्ती बरती उस सख्ती बरतने के नियमों में पहला नियम यह डाला कि बेवजह घुमने वालों को 14 दिन का क्वारेंटाइन करना शुरू कर दिया जिससे लोगों को भय सताने लगा और इस भय के कारण ही सडक़ो पर लोगों के घूमनें की आदत पर ब्रेक लग गया। 
अतिरिक्त पुलिस कमिश्नर जयपुर अजय लांबा ने बताया कि पुलिस की सख्ती के कारण बगराना क्वारेंटाइन सेंटर में लोगों की संख्या में कमी आई है उन्होने बताया कि राज्य सरकार ने नई गाइडलाइन में बिना वजह बाहर घूमने वालों को क्वारेटाइन करने के आदेश दिए थे कहा था कि क्वारेंटाइन किए गए युवकों की जब तक कोरोना रिपोर्ट निगेटिव नहीं आ जाती तब तक उन्हें क्वारोंटन ही रहना पडेगा। पुलिस की टीमें लगातार सडको पर बेवजह घूमने वालों की जांच कर रही है जांच के लिए जयपुर के करीब 378 पाइंस पर नाकाबंदी की गई है।