मुंबई । प्रमुख विमानन कंपनी इंडिगो ने अपनी ताजा वार्षिक रिपोर्ट में खुलासा किया है कि हाल में उसके मुख्य कार्याधिकारी रणजय दत्ता के वेतन में 35 फीसदी की कटौती की गई और उन्हें वित्त वर्ष 2020 के लिए 11.4 करोड़ रुपए का भुगतान वेतन के तौर पर किया गया। इंडिगो का परिचालन करने वाली कंपनी इंटरग्लोब एविएशन ने पूर्णकालिक निदेशक एवं सीईओ के तौर पर दत्ता की नियुक्ति और उन्हें वित्त वर्ष 2020 सहित तीन वर्षों के लिए वेतन पैकेज के भुगतान के लिए शेयरधारकों से मंजूरी मांगी है। कंपनी ने एक विशेष प्रस्ताव के जरिये शेयरधारकों से यह मंजूरी मांगी है। कंपनी 4 सितंबर को अपनी वार्षिक आम बैठक में शेयधारकों के समक्ष वोटिंग के लिए यह प्रस्ताव रखेगी। विमानन क्षेत्र के दिग्गज माने जाने वाले दत्ता ने सबसे पहले सलाहकार के रूप में इंडिगो से जुड़े थे और 2019 के आरंभ में उन्हें कंपनी का सीईओ नियुक्त किया गया था। इसी साल जनवरी में उन्होंने पूर्णकालिक निदेशक के तौर पर भी पदभार संभाला है। इससे पहले दत्ता सहारा एयरलाइंस और यूनाइटेड एयरलाइंस के अध्यक्ष के तौर पर काम कर चुके हैं। वार्षिक रिपोर्ट के अनुसार दत्ता के वेतन पैकेज में 12.7 लाख डॉलर सकल वार्षिक वेतन शामिल है जिसका भुगतान रुपए में किया जाएगा। इसके अलावा उन्हें बोनस भी दिया जाएगा। वित्त वर्ष 2020 में दत्ता को सीईओ और पूर्णकालिक निदेशक के तौर पर कुल 11.4 करोड़ रुपए का वेतन प्राप्त हुआ। कंपनी ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट में कहा है ‎कि वित्त वर्ष 2020 में उन्हें वेतन के अलावा करीब 5.6 करोड़ रुपये का बोनस दिया गया जो उनके अनुबंध शर्तों के अनुरूप है। यह रकम 31 मार्च 2020 तक के लिए थी।