भारतीय रिकर्व तीरंदाज एक बार फिर कोरिया से पार नहीं पा सके और उन्हें एशियाई तीरंदाजी चैंपियनशिप में पुरुष और महिला रिकर्व टीम स्पर्धा के फाइनल में हारकर रजत पदक से संतोष करना पड़ा।
कपिल-अंकिता ने एशियाई चैंपियनशिप में जीता कांसा, 7 पदक (1 स्वर्ण, 4 रजत, 2 कांस्य) जीते
रिकर्व मिश्रित टीम स्पर्धा में कपिल और अंकिता ने उज्बेकिस्तान के जियोदाखोन और अमीरखान सादकिोव को 6-0 से हराकर कांसा जीता। इससे भारत ने टूर्नामेंट में एक स्वर्ण, चार रजत और दो कांस्य सहित कुल सात पदकों के साथ अपना अभियान खत्म किया। पिछले सत्र में भी सात पदक जीते थे।
कपिल, प्रवीण जाधव और पार्थ सालुंके की तिकड़ी को शीर्ष वरीयता प्राप्त ली सियु्ंगियुन, किम पिल जूंग और हान वू टैक के हाथों 2-6 से हार मिली। महिला वर्ग में अंकिता भगत, मधु वेदवान और रिधि की टीम एकतरफा मुकाबले में 0-6 से हारी। कोरिया की सू जुंग, ओ येजिन और लिम हेजिन से भारतीय तिकड़ी को 52-57, 49-59, 60-56 से मात दी।