लंदन । हालिया शोध के अनुसार प्रोटीन युक्त मीट जैसे सॉसेज और पका हुआ ठंडा मांस खाने वाले पुरुषों में मौत  का खतरा बढ़ जाता है।  शोध में पाया गया कि जो पुरुष प्लांट प्रोटीन से ज्यादा जीव प्रोटीन का सेवन करते हैं उनमें मौत का खतरा संतुलित प्रोटीन आहार लेने वाले पुरुषों की तुलना में 23 फीसदी तक ज्यादा होता है। शोध के अनुसार टाइप-2 डायबिटीज, हृदय संबंधी बीमारियों और कैंसर से पीड़ित पुरुष में ज्यादा प्रोटीन का सेवन करने से भी मौत का खतरा बढ़ जाता है। वहीं, जिन पुरुषों को यह बीमारियां नहीं है उनमें कुल प्रोटीन की मात्रा ज्यादा होने पर भी कोई खतरा नहीं पाया गया। इस शोध के परिणामों के बाद सेहत पर प्रोटीन के असर के बारे में और जानकारी जुटाने के लिए शोध करने की जरूरत महसूस की जा रही है।यूनिवर्सिटी ऑफ इस्टर्न फिनलैंड के शोधकर्ता हेली विरटानेन ने कहा, हमारे शोध के परिणामों को सामान्यीकृत नहीं किया जाना चाहिए क्योंकि बुजुर्गों के खाने में अक्सर प्रोटीन की मात्रा निर्धारित स्तर से कम होती है। इसकी वजह से बुजुर्गों में कुपोषण की समस्या बनी रहती है।