बेगूसराय । बिहार के बेगूसराय में एक रोजेदार ने हिंदू-मुस्लिम एकता की मिसाल पेश कर दी है। दरअसल, एक मरीज को खून की जरुरत थी, इसीलिए शाहबाज ने रोजा तोड़कर एक मरीज के लिए रक्तदान किया। बताया गया कि लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) के प्रदेश प्रवक्ता संजय पासवान के एक रिश्तेदार को एबीपॉजिटिव ब्लड की जरूरत थी। इसकी सूचना उन्होंने फेसबुक के माध्यम से साझा की। जानकारी मिलने पर बेगूसराय सदर प्रखंड के सांख तरैया निवासी मोहम्मद शाहबाज ने संजय पासवान से संपर्क कर ब्लड देने की इच्छा जताई। मोहम्मद शाहबाज ने सदर अस्पताल पहुंचकर रक्तदान किया और उस ब्लड को मरीज को दिया गया। मोहम्मद शाहबाज ने कहा कि कोरोना संकट के बीच हिंदू-मुस्लिम के बीच खाई बनाने की कोशिश हो रही है। ऐसे में उसने रक्तदान कर इस खाई को मिटाने की कोशिश किया है। मरीज के रिश्तेदार और एलजेपी नेता संजय पासवान ने कहा कि मोहम्मद शाहबाज ने हिंदू मुस्लिम एकता की मिसाल पेश की है। उन्होंने पवित्र रोजा को तोड़कर रक्तदान किया है जो कि एक मिसाल है।