भोपाल। प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता श्री सज्जन सिंह वर्मा ने राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से अपील की है कि मध्यप्रदेश की शिवराज कैबिनेट को तुरंत बर्खास्त किया जाए। वर्मा ने कहा कि शिवराज सरकार के दो मंत्रियों तुलसीराम सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत का कार्यकाल खत्म हो गया है, राज्यपाल उन्हें तुरंत पद त्याग करने के लिए कहें या उन्हें तुरंत बर्खास्त किया जाए। उन्होंने कहा कि शिवराज ने अपनी कैबिनेट में पूर्व विधायकों जो वर्तमान में विधायक भी नहीं है उन्हें मंत्री बना रखा है, जिसमें तुलसीराम सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत ने 21 अप्रैल को मंत्री पद की शपथ ली थी। संविधान के मुताबिक कोई भी मंत्री यदि विधायक नहीं है तो वह 6 महीनों ही मंत्री पद पर रह सकता है उसके पूर्व उसे दोबारा विधायक बनना आवश्यक है मंत्री पद पर बने रहने के लिए।
श्री वर्मा ने कहा कि राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को आने वाले चुनावों के दृष्टिगत भी  शिवराज कैबिनेट को बर्खास्त कर देना चाहिए, लगभग एक दर्जन मंत्री चुनाव मैदान में हैं और अपने मंत्री पद का दुरुपयोग वह चुनाव के दौरान कर रहे हैं, ऐसे में प्रदेश में निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए राज्यपाल को यह निर्णय तुरंत लेना चाहिए।
भाजपा सरकार में मंत्री उषा ठाकुर के मदरसों को लेकर दिए गए विवादित बयान पर पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने प्रहार किया, श्री वर्मा ने कहा कि जब जब प्रदेश में चुनाव आते हैं तब तब भाजपा नेता आरएसएस की भाषा बोलने लगते हैं। उन्होंने कहा कि आखिर क्यों जहर फैलाना चाह रही है भाजपा? हिंदू-मुस्लिम, धर्म-जाति के नाम पर अपनी राजनीतिक रोटियां सेकने से कब बाज आएगी भाजपा? देश में कहीं पर भी यदि आतंकवादी हैं तो दिल्ली में बैठी भाजपा की सरकार और प्रदेश में बैठी सरकार क्या सो रही है? हमें ऐसी सोने वाली सरकार नहीं चाहिए।
श्री वर्मा ने आयुष कर्मचारियों के मुद्दे पर भी शिवराज सरकार को आड़े हाथों लिया और कहा कि सरकार ने अपना काम निकालने के लिए झूठे प्रलोभन देकर उन्हें भर्ती किया जिन्होंने कोरोना महामारी के दौरान अपनी जान पर खेलकर प्रदेशवासियों की रक्षा की। ऐसे कोरोनावरियर्स को सरकार हटा रही है, कर्मचारियों को झूठे प्रलोभन दे रही है, यह चुनावी मौसम है और प्रदेश की जनता और कर्मचारी यह बात अच्छे से जानते हैं। पिछले 15 वर्षों के कार्यकाल में शिवराज ने सिर्फ और सिर्फ भ्रष्टाचार किया है आज प्रदेश का किसान भी  दुखी है, बेसहारा है।
प्रदेश में लगातार बढ़ रहे महिला अपराधों पर भी सज्जन वर्मा ने शिवराज सरकार पर गंभीर आरोप लगाए उन्होंने कहा कि प्रदेश को फिर से रेप कैपिटल बनाना चाहते हैं शिवराज। जैसे पहले महिला अपराधों में प्रदेश नंबर वन स्टेट बन गई थी वैसे ही दोबारा से प्रदेश को महिलाओं की अपराधों में नंबर वन बनाने की ओर अग्रसर है शिवराज।