मुंबई महाराष्ट्र सरकार ने रेस्टोरेंट व बार खुलने के लिए दिशा-निर्देश (एसओपी) जारी कर दिए हैं, जिसके अनुसार, होटल-रेस्टोरेंट व बार में प्रवेश करते समय मुंह पर मास्क लगाना अनिवार्य होगा। बिना स्क्रीनिंग के प्रवेश नहीं दिया जाएगा। साथ ही कुल क्षमता के सिर्फ 50 प्रतिशत ही खोले जा सकेंगे। इस एसओपी का विविध होटल-रेस्टोरेंट व बार संगठनों ने स्वागत किया है। आहार के अध्यक्ष शिवानंद शेट्टी का कहना है कि उनकी संस्था ने सरकार को जो सुझाव दिए थे, उसे दिशा-निर्देश में शामिल किया गया है।
 गौरतलब है कि सरकार ने 5 अक्टूबर से राज्य में होटल-रेस्टोरेंट व बार खोलने की अनुमति दी थी, लेकिन दिशा-निर्देश जारी नहीं किए थे। सरकार ने दिशा-निर्देश में साफ किया है कि जो भी अपना होटल-रेस्टोरेंट व बार खोलेगा उसे कोरोना संक्रमण की रोकथाम व सुरक्षा से जुड़े नियमों का पालन करना होगा। वहां आने वाले ग्राहकों और सेवा देने वाले कर्मचारियों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन करना होगा। ग्राहकों के शरीर का तापमान, सर्दी व खांसी के लक्षणों की जांच की जाएगी, जिसके शरीर का तापमान सामान्य होगा और जिसे सर्दी-खासी-बुखार नहीं होगा, उन्हें ही प्रवेश दिया जाएगा। राज्य के विविध संगठनों को इस बात का डर है कि सभी होटल-रेस्टोरेंट व बार एक साथ नहीं खुल सकेंगे, क्योंकि ज्यादातर उनके कर्मचारी गांव चले गए हैं। ट्रेन का रिजर्वेशन एक-एक महीना तक नहीं मिल रहा है। हालांकि, कुछ लोगों ने अपने कर्मचारियों को बुलाने के लिए फ्लाइट का टिकट भेजा है या फिर भेज रहे हैं। उन्होंने स्वीकार किया कि शुरूआत में कुछ दिक्कत जरूर आएंगी, लेकिन हम लोग उसे हल कर लेंगे।