बेंगलूर । ऑस्ट्रेलिया के पूर्व फॉरवर्ड कीरान गोवर्स की देखरेख में भारतीय हॉकी खिलाड़ी 2020 ओलंपिक क्वालीफायर्स की तैयारी में लगे हैं। गोवर्स भारतीय खेल प्राधिकरण के शिविर में स्ट्राइकरों को विशेष टिप्स देंगे। उन्होंने कहा, ''मैं भारत लौटकर काफी उत्साहित अनुभव कर रहा हूं। भारत में खेलने की मेरी सुनहरी यादें हैं।''  उन्होंने कहा, ''मैं भारतीय टीम को खेलते देखता आया हूं और मेरा मानना है कि यह काफी क्षमतावान टीम है। अगले कुछ दिन में फॉरवर्ड खिलाड़ियों के साथ काम करके मैं उनके हुनर को निखारने की कोशिश करूंगा।'' उन्होंने कहा, '' हमारा लक्ष्य मौकों को गोल में बदलने की क्षमता का विकास करना है।'' वहीं अनुभवी स्ट्राइकर एस वी सुनील ने कहा, ''उनके अनुभव का फॉरवर्ड खिलाड़ियों को लाभ  मिलेगा। वह ऑस्ट्रेलिया के सर्वश्रेष्ठ स्ट्राइकरों में से है और सर्कल के भीतर पोजिशनिंग, गोल करने और गोल में मदद करने में उनका कोई जवाब नहीं है।'' गोवर्स के साथ काम करने को लेकर भारत के प्रमुख स्ट्राइकरों में से एक एसवी सुनील ने कहा, गोवर्स का अनुभव हमारे स्ट्राइकरों को बेहतर प्रदर्शन करने के लिये काम आयेगा। गोवर्स आस्ट्रेलिया के श्रेष्ठ स्ट्राइकरों में से एक थे तथा वह विपक्षी टीम के सर्कल में दवाब बनाने, गोल करने और पोजीशन बदलने में माहिर थे। इन्हीं विभागों में हमें सुधार लाना होगा। इसके अलावा हम गोवर्स से और भी अन्य गुण सीख सकते हैं।