नई दिल्ली । चीन की दिग्गज टेक कंपनी शियोमी ग्रुप के सीईओ लू वेबिंग का कहना है कि भविष्य के रेडमी स्मार्टफोन्स आईपी68 रेटिंग के साथ आ सकते हैं। यह रेटिंग फोन को धूल-मिट्टी और पानी से बचाती है। दुनियाभर के प्रीमियम डिवाइस इस रेटिंग के साथ आते हैं। हाल में लॉन्च हुए रेडमी के30 प्रो को वॉटर और डस्ट प्रूफ बनाए रखने के लिए कंपनी ने इसमें आईपी 53 रेटिंग दी है।
यह कुछ हद तक पानी के छींटे और छोटी बूंदो को झेल सकता है। हालांकि, इस रेटिंग के साथ फोन को अंडर-वॉटर एक्टिविटी जैसे स्विमिंग या पानी के अंदर फोटोग्राफी के लिए इस्तेमाल नहीं किया जा सकता। फोन की आईपी53 रेटिंग की बारे में वीबींग ने वीबो पर लिखा, 'रेडमी के30 प्रो आईपी 53 रेटिंग के साथ आता है जो काफी हद तक पानी से फोन को बचा सकता है और मुझे लगता है कि आईपी 68 रेटिंग की कोई खास जरूरत नहीं है। हालांकि, शाओमी ग्रुप के सीईओ की इन बातों से शाओमी और रेडमी फैंस सहमत नहीं दिखे। वीबींग की पोस्ट पर आए कॉमेन्ट्स को देखकर यही लगा कि ज्यादातर शाओमी और रेडमी फैंस की इच्छा है कि कंपनी ने अपकमिंग फोन्स में आईपी 68 रेटिंग दी जाए।
फैंस के इन फीडबैक कॉमेन्ट्स को देखने के बाद ल्यू वीबींग ने कहा, सभी को आईपी 68 रेटिंग इतनी ज्यादा पसंद है तो हम अपने आने वाले प्रॉडक्ट्स में इसे उपलब्ध कराने के बारे में जरूर सोचेंगे। फोन के अन्य फीचर्स की बात करें तो रेडमी के 30 प्रो में 60हर्ट्ज के रिफ्रेश रेट के साथ सैमसंग का अमोल्ड डिस्प्ले मिलता है।
8जीबी तक के रैम और 256जीबी तक के यूएफएस 3.1 के साथ आने वाले इस फोन में क्वालकॉम 865 प्रोसेसर दिया गया है। फोटॉग्रफी के लिए फोन में 64 मेगापिक्स का क्वॉड कैमरा सेटअप दिया गया है। वहीं, सेल्फी के लिए इस फोन में 20 मेगापिक्सल का कैमरा मौजूद है। फोन को पावर देने के लिए इसमें 4700एमएएच की बैटरी दी गई है जो 33 वॉट के फास्ट चार्जिंग सपॉर्ट के साथ आती है।