नई दिल्ली ।  देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे प्रवासी लोगों को उनके घर पहुंचाने के लिए भारतीय रेलवे आज से 200 विशेष रेलगाड़ियों का परिचालन शुरू करने जा रही है। यह ट्रेनें पहले से चल रहीं श्रमिक और स्पेशल ट्रेनों से अलग होंगी।  लॉकडाउन-4 समाप्त हो रहा है। इसके अगले दिन सोमवार से 200 गाड़ियां सवारियों को लेकर पटरियों पर दौड़ने लगेंगी। इन ट्रेन में सफर करने के लिए बीती 22 मई से टिकटों की बुकिंग शुरू हो गई है। हाल ही में रेलवे ने घोषणा की है कि इन ट्रेन में सफर करने वाले 120 दिन पहले सीटों की बुकिंग करवा सकते हैं। रेलवे के मुताबिक 200 विशेष ट्रेन के लिए आधिकारिक वेबसाइट और मोबाइल एप के अलावा चुनिंदा रेलवे स्टेशनों के काउंटर, पोस्ट ऑफिस, यात्री टिकट सुविधा केंद्र (वाईटीएसके), आधिकारिक एजेंट, पैसेंजर रिजर्वेशन सिस्टम (पीआरएस) और कॉमन सर्विस सेंटर्स (सीएससी) से भी टिकटों की बुकिंग करवा सकते हैं। इन 200 ट्रेन में पैसेंजर बोगी भी होगी, लेकिन उसमें भी यात्रियों को कन्फर्म टिकट के साथ ही यात्रा की इजाजत होगी। इस बोगी में सेकेंड सिटिंग का टिकट लगेगा, जो कि स्लिपर से कम होगा।
200 विशेष ट्रेनों में दिल्ली के स्टेशनों से 39 टे्रन रवाना होंगी। आठ ट्रेन दूसरे राज्यों से आएंगी और दिल्ली होते हुए जाएंगी। दिल्ली से लखनऊ, राजगीर, राजेंद्र नगर, कानपुर, मंडुवाडीह, यशवंतपुर, हैदराबाद, पुरी, वाराणसी, सहरसा, हावड़ा, देहरादून, ऊना, दरभंगा, नांदेड, बांद्रा, गोरखपुर, हबीबगंज, एर्नाकुलम, उदयपुर सिटी, सिकंदराबाद, कोटा, अहमदाबाद, वास्को-द-गामा, मुंबई सेंट्रल, बापूधाम मोतिहारी,  मुजफ्फरपुर, रक्सौल, अलीपुद्वार, जयनगर, जोधपुर, अजमेर, छात्रपति शिवाजी टर्मिनल आदि के लिए ट्रेन जाएंगी।