लखनऊ. देश में 31 मई को खत्म हो रहे चौथे लॉकडाउन (Lokdown 4.0) के साथ ही 1 जून से 200 और यात्री ट्रेनें पटरी पर दौड़ने लगेंगी. देश भर भारतीय रेल (Indian Railway) ने 200 ट्रेनें चलाने की तैयारी पूरी कर ली है. इन ट्रेनों का सबसे ज्यादा फायदा यूपी (UP) के निवासियों को होने वाला है क्योंकि करीब दो दर्जन ट्रेनें लखनऊ (Lucknow), वाराणसी (Varanasi), इलाहाबाद (Allahabad) , कानपुर (Kanpur), आगरा (Agra), मुरादाबाद (Moradabad), जैसे बड़े स्टेशनों से होकर गुजरेंगी. इनमें से कई ऐसी हैं, जो बिहार और पश्चिम बंगाल जाती हैं. वहीं कई ट्रेनें लखनऊ और वाराणसी से चलेंगी भी. भारतीय रेलवे के अनुसार ये ट्रेनें श्रमिक स्पेशल और एसी स्पेशल ट्रेनों से अलग होंगी. रेलवे ने इसे लेकर एक लिस्ट जारी की है. इसमें ट्रेनों का टाइमटेबल है, हालांकि अभी सभी 200 ट्रेनों की लिस्ट नहीं आई है.

वैसे इन ट्रेनों के लिए 22 मई से ही टिकटों की बुकिंग शुरू हो गई थी. इन ट्रेनों के लिए यात्री 30 दिन पहले रिजर्वेशन करवा सकते हैं. रेलवे के अनुसार इन ट्रेनों के लिए आईआरसीटीसी या मोबाइल ऐप के अलावा रेलवे स्टेशन के काउंटर, पोस्ट ऑफिस, यात्री टिकट सुविधा केंद्र (YTSK), आधिकारिक एजेंट, पैसेंजर रिजर्वेशन सिस्टम (PRS) और कॉमन सर्विस सेंटर्स से भी टिकट बुक करवा सकते हैं.

वैसे यात्रा के दौरान रेलवे ने कुछ अहम नियम भी बनाए हैं, जिन्हें हर यात्री को फॉलो करना होगा. इसमें सभी यात्रियों की अनिवार्य रूप से मेडिकल जांच की जाएगी. केवल पूर्ण रूप से स्वस्थ्य यात्रियों को ही ट्रेन में प्रवेश करने और यात्रा करने की अनुमति होगी. केवल कन्फर्म टिकट वाले यात्रियों को ही रेलवे स्टेशन में अंदर जाने और यात्रा करने की अनुमति दी जाएगी. स्टेशन पर थर्मल स्क्रीनिंग की सुविधा के लिए यात्रियों को कम से कम 90 मिनट पहले स्टेशन पहुंचना होगा. यात्रा के दौरान किसी भी यात्री को कोई अनारक्षित (यूटीएस) टिकट जारी नहीं किया जाएगा और न ही कोई अन्य टिकट जारी किया जाएगा. यानी टिकट चेक करने वाले अधिकारी को यात्रा के दौरान टिकट देने का अधिकार नहीं होगा.

इन 200 ट्रेनों के लिए अग्रिम आरक्षण की अवधि अधिकतम 30 दिन तय की गई है. यानी यात्री इन 200 ट्रेनों के लिए टिकट की बुकिंग यात्रा के दिन से 30 दिन पहले या 30 दिन के भीतर करा सकेंगे. ट्रेनों में पैसेंजर बोगी भी होगी लेकिन उसमें भी यात्रियों को कन्फर्म टिकट के साथ ही यात्रा की इजाजत होगी. इस बोगी में सेकेंड स्लिपर का टिकट लगेगा, जो कि स्लिपर से कम होगा.

इन स्टेशनों पर रुकेगी ट्रेनें
ट्रेनों में किसी प्रकार के तत्काल और प्रीमियम तत्काल बुकिंग की अनुमति नहीं दी गई है. दक्षिण भारत से उत्तर भारत की ओर आने वाली ट्रेनें यात्रा के दौरान नीचे दिए गए स्टेशनों पर रुकेंगी. राजधानी में नई दिल्ली के अलावा, पुरानी दिल्ली, आनंद विहार, सराय रोहिल्ला स्टेशन और हजरत निजामुद्दीन से भी ट्रेनें चलाई जाएंगी.

वहीं यूपी में गोरखपुर, गाजीपुर, वाराणसी, लखनऊ, कानपुर आदि स्टेशनों से कई ट्रेनें गुजरेंगी.