रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी (Ajit Jogi) पिछले 10 दिनों से अस्पताल में हैं. 74 साल के अजीत जोगी को कार्डियक अरेस्ट के बाद अस्पताल में एडमिट किया गया था. 9 मई से वो कोमा में ही हैं. जोगी को वेंटिलेटर के जरिए सांस दी जा रही है. रायपुर के श्री नारायणा अस्पताल के मुताबिक अजीत जोगी की हालत अभी भी नाजुक है. मुश्किल की इस घड़ी में अजीत जोगी का परिवार उनके साथ खड़ा है.अस्पताल से अजीत जोगी का एक फोटो सामने आया है. अजीत जोगी की पत्नी उनके साथ हैं. वे अजीत जोगी की सलामती की दुआ कर रही हैं. मालूम हो कि अजीत जोगी के इलाज के लिए कई डॉक्टरों से सलाह ली जा रही है. टेलिकॉन्फ्रेसिंग के जरिए पत्नी रेणु जोगी और बेटे अमित जोगी लगातार उनके ट्रीटमेंट को लेकर सलाह ले रहे हैं.

अस्पताल ने दी ये जानकारी
मंगलवार शाम करीब 6 बजे अजीत जोगी के स्वास्थ्य को लेकर ताजा हेल्थ अपडेट जारी किया गया. श्री नारायणा अस्पताल के डायरेक्टर डॉ. सुनील खेमका के हवाले से जारी ताजा हेल्थ बुलेटिन में बताया गया है कि अजीत जोगी हिमो डायनामिकली स्थिर हैं. उनके स्वास्थ्य पर डॉक्टरों की टीम लगातार मॉनिटरिंग कर रही है. अस्पताल की ओर से कहा गया था कि सोमवार को अजीत जोगी का ब्लड प्रेशर (Blood Pressure) और हार्ट रेट (Heart Rate) में काफी उतार चढ़ाव चल रहा था. डॉक्टरों की टीम ने लगातार मॉनिटरिंग कर स्थिति को नियंत्रित कर लिया गया.


ब्रेन को एक्टिव करने की कोशिश
अजीत जोगी की ब्रेन एक्टिविटी बहुत कम है. टीसीडी, वीएनएम, इंफ्रारेड रेडिएशन समेत कई तकनीकों से उनके ब्रेन को एक्टिव करने की कोशिश की जा रही है. राइल्स ट्यूब के जरिए उन्हें खाना दिया जा रहा है. इस दौरान उनका परिवार उनके साथ है. जोगी के स्वास्थ्य पर हर थोड़ी बड़ी डेवलप्मेंट पर नजर रखी जा रही है. 9 मई को कार्डियक अरेस्ट आने के बाद से अजीत जोगी अस्पताल में भर्ती हैं. वहीं सोमवार को अजीत जोगी का डोपलर स्कैन किया गया है जिसमें उनके ब्रेन में ब्लड सर्कूलेशन देखा गया. डॉक्टर्स लगातार उन्हें मॉनिटर कर रहे हैं. ट्रीटमेंट की हर संभव कोशिश की जा रही है.

कई डॉक्टरों से ली जा रही सलाह
अजीत जोगी के ट्रीटमेंट में अब विदेश सहित देश के डॉक्टरों की सलाह ली जा रही है. अस्पताल द्वारा जारी हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक बेंगलुरु स्थित नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ मेंटल हेल्थ के न्यूरोलॉजी विभाग के प्रोफेसर डॉ. संजीव सिंह से जोगी के स्वास्थ्य के संबंध में चर्चा की गई है. इससे पहले सिंगापुर के नेशनल यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल के न्यूरोलॉजी विभाग के प्रमुख डॉ. विजय कुमार शर्मा से टेली कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चर्चा की गई थी.