बिलासपुर । जब शुरुआती दौर में लॉकडाउन लगा था, तो अचानक से अपराध का ग्राफ बिल्कुल नीचे चला गया था लेकिन लॉकडाउन के दुष्प्रभाव का साइड इफेक्ट अब नजर आने लगा है। प्रतिदिन किसी न किसी बड़े आपराधिक घटना से यह संकेत मिल रहा है कि लोग परेशान और बेहद तनाव में है। ऐसी एक ह्रदय विदारक घटना सीपत थाना क्षेत्र के ग्राम मटियारी से सामने आई है, जहां एक युवक ने अपने ही परिवार के पांच सदस्यों को कुल्हाड़ी से काट डाला और खुद भी हाइवा के सामने कूदकर अपनी जान दे दी। यह घटना  रात करीब 3.00 बजे की बताई जा रही है। मटियारी में रहने वाले रोशन सूर्यवंशी ने अपने पिता रूप दास, मां संतोषी बाई, दो भाई रोहित और शशि और एक बहन कामिनी की निर्ममता से हत्या कर दी और फिर खुद भी एक हाइवा के सामने कूदकर उसने खुदकुशी कर ली। रोशन घर का बड़ा बेटा था। मामले का दुखद पहलू यह है कि इस परिवार में अब कोई भी जीवित नहीं बचा है। जानकार बता रहे हैं कि हत्यारा रोशन शराबी और सनकी था और मुमकिन है कि शराब के नशे में ही उसने इस जघन्य वारदात को अंजाम दिया होगा।
जिन्होंने उसे जन्म दिया उन्हें ही उसने मौत दे दी। अपने मासूम भाई बहनों को भी उसने नहीं बख्शा। हैरानी इस बात की है कि एक युवक 5 लोगों को मारता रहा और किसी ने उसे रोकने की कोशिश नहीं की। माना जा रहा है कि इन सबके सोने के दौरान उसने यह हमले किए, इसलिए कोई संभल तक ना पाया। इस घटना के बाद पूरे क्षेत्र में सनसनी फैली हुई है। पुलिस मामले की तह में जाने की कोशिश कर रही है। शुरुआती पूछताछ में पता चला है कि हत्यारा युवक अवसाद में था और उसे परिवार द्वारा शराब पीने से रोक टोक किये जाने से वह नाराज था।