मुजफ्फरपुर. बिहार (Bihar) के मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) में एक सरफिरे आशिक में अपनी प्रेमिका से शादी करने में नाकाम होने पर उसके होने वाले पति के हत्या की साजिश रच डाली.  लेकिन वह अपने मंसूबे में कामयाब नहीं हो सका. क्योंकि समय रहते पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेज दिया. घटना अहियापुर थाना इलाके की है. मिली जानकारी के मुताबिक थाना के विजय छपरा गांव का निवासी नीरज स्वभाव से अपराधी प्रवृत्ति का है. वह अपने गांव की ही एक युवती के साथ प्रेम करता है, लेकिन प्रेमिका के घर वाले नीरज के साथ बेटी की शादी करने को तैयार नहीं थे.

लड़की के परिजनों ने अपनी बेटी की शादी कांटी के राजीव साहनी से तय कर दिया था। इसकी जानकारी मिलने पर नीरज बौखला गया और राजीव की हत्या की साजिश रचने लगा, लेकिन इसकी भनक पुलिस को लग गई. डीएसपी टाउन राम नरेश पासवान ने बताया कि एसएसपी जयंत कांत को जानकारी मिली कि अहियापुर के मेडिकल ओवर ब्रिज के पास 4—5 लोग हथियार के साथ मौजूद हैं और किसी कांड को अंजाम देने वाले हैं. एसएसपी के निर्देश पर अहियापुर के प्रभारी थानेदार मुकेश कुमार के नेतृत्व में पुलिस ने छापेमारी की तो नीरज और उसके चार अन्य साथियों को गिरफ्तार किया.

पूछतछा में खुलासा

पुलिस को उनके पास से हथियार और लोडेड मैगजीन भी बरामद किया गया. पूछताछ में उनके मंसूबे का खुलासा हुआ तो पुलिस भी सन्न रह गई. पुलिस पदाधिकारी मुकेश कुमार के बयान पर पांचों के खिलाफ हत्या की साजिश रचने का मुकदमा दर्ज किया गया है. डीएसपी राम नरेश पासवान ने बताया कि मामले की जांच गंभीरता के साथ की जा रही है. पुलिस यह पता लगाने में जुटी है के इस साजिश में और कौन-कौन लोग शामिल हैं. हालांकि इस मामले में पुलिस की सक्रियता के कारण एक बड़ी वारदात होने से पहले ही उसकी साजिश रचने वाले गिरफ्तार कर लिए गए हैं.