बिलासपुर । कानन पेंडारी जू के स्टैंड में अब तक शेड का निर्माण नहीं हो सका है। इसके चलते गाड़ियों खुले आसमान के नीचे खड़ी रहती है। जबकि कुछ साल पहले शेड बनाने की योजना थी। यह निर्णय उस समय लिया गया था, जब स्टैंड के शुल्क में बढ़ोत्तरी की गई थी।

कानन पेंडारी जू में बड़ी संख्या में पर्यटक पहुंचते हैं। शनिवार रविवार को तो पैर तक रखने की जगह नहीं रहती। पर्यटक की गाड़ियां सुरक्षित रखने के लिए प्रबंधन ने जू के सामने काफी बड़े हिस्से में पार्किंग की व्यवस्था की है। साइकिल, बाइक कार तीनों का शुल्क भी निर्धारित है। पहले इसे ठेके पर दिया जाता था। पर अब जू प्रबंधन खुद इसका संचालन कर रहा है। यह व्यवस्था इसलिएकी गई है ताकि किसी तरह का विवाद हो। जू प्रबंधन ने संचालन की जवाबदारी तो खुद ले ली। पर आज तक जो जरूरी सुविधाएं है वह उपलब्ध नहीं कराया।

बारिश होते ही जहां स्टैंड में कीचड़ हो जाता है। इस स्थिति में गाड़ियां निकालने में पर्यटकों को परेशानी होती है। वहीं गर्मी के समय में गाड़ियां तेज धूप में खड़ी रहती है। पर्यटकों द्वारा लगातार शेड लगाने और कीचड़ हो इसके लिए पुख्ता इंतजाम करने की मांग करते हैं। कुछ साल पहले इसी मांग को देखते हुए जू प्रबंधन ने मुरूम बिछाने के साथ शेड लगाने का निर्णय लिया था। इसके लिए प्रारंभिक तैयारी भी शुरू हो गई है।

पर अधिकारी के तबादले के साथ ही योजना ठंडे बस्ते में चली गई। अब तक तो मुरूम बिछाने का काम हुआ और शेड लगाया गया। इस स्टैंड में एक और अव्यवस्था देखी जा सकती है। करीब नौ साल पहले यहां महिला पुरूष दोनों पर्यटकों के लिए शौचालय का निर्माण किया गया। पर इसमें दरवाजे नहीं लगे। आज तक स्टैंड के शौचालय की यही स्थिति है। पर्यटक इसमें दरवाजे लगाने की मांग कई बार कर चुके हैं। लेकिन आज तक यह सुविधा नहीं मिली है।