रायपुर : प्रदेश के उद्योग मंत्री तथा धमतरी जिले के प्रभारी मंत्री श्री कवासी लखमा ने आज धमतरी प्रवास के दौरान उद्योग और आबकारी विभाग के अधिकारियों की बैठक लेकर विभागीय कार्यों की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने उद्योग विभाग के तहत संचालित मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के तहत पांच हितग्राहियों को ऋण स्वीकृति आदेश वितरित किए। साथ ही आबकारी विभाग को अवैध रूप से मदिरा निर्माण, भण्डारण, परिवहन तथा विक्रय के विरूद्ध सतत् कार्रवाई करने के लिए निर्देशित किया।

 समीक्षा बैठक में प्रभारी मंत्री श्री लखमा ने दोनों विभागों के अधिकारियों को वर्तमान वित्तीय वर्ष में निर्धारित लक्ष्य की पूर्ति के लिए सतत् प्रयास करने के निर्देश दिए। बैठक में महाप्रबंधक उद्योग श्री एस.पी. गोस्वामी ने बताया कि फूड पार्क औद्योगिक प्रक्षेत्र के लिए सभी चारों विकासखण्डों में भूमि का चिन्हांकन कर भू-अर्जन की प्रक्रिया की जा रही है। उन्होंने बताया कि कुरूद विकासखण्ड के ग्राम बंजारी बगौद में मेगा फूड पार्क संचालित है। उन्होंने यह भी बताया कि श्यामतराई में लघु वनोपज प्रसंस्करण पार्क की स्थापना भी प्रक्रियाधीन है। मंत्री श्री लखमा ने जिले में उद्योग स्थापना एवं ऋण प्रकरणों की भी समीक्षा इस दौरान की। इस अवसर पर उद्योग मंत्री ने मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के तहत 05 हितग्राही श्री ओमप्रकाश डागौर को 50 लाख रूपए, श्रीमती परवीन हिंगोरा को 40 लाख रूपए, श्री वैभव गुप्ता को कंस्ट्रक्शन व्यवसाय के लिए 10 लाख रूपए, श्री करण यादव को लोकसेवा केन्द्र की स्थापना के लिए 10 लाख रूपए तथा श्री राहुल यादव को कम्प्यूटर व्यवसाय के लिए ढाई लाख रूपए के चेक वितरित किए।

आबकारी विभाग की समीक्षा बैठक में उन्होंने राजस्व प्राप्ति एवं विभागीय गतिविधियों की जानकारी ली। जिला आबकारी अधिकारी ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2020-21 में 161.17 करोड़ रूपए के लक्ष्य का निर्धारण किया गया है, जिसके विरूद्ध द्वितीय तिमाही तक सितम्बर 2020 की स्थिति में 55 करोड़ रूपए की राजस्व प्राप्ति हुई है। जिला आबकारी अधिकारी ने विभागीय अमले के द्वारा अलग-अलग वृत्त में अब तक की गई कार्रवाई की जानकारी केबिनेट मंत्री श्री लखमा को दी। इस अवसर पर विभाग के अधिकारीगण उपस्थित थे।