अलीगढ़ । कलेक्ट्रेट में बैठक करते हुए डीएम चंद्र भूषण सिंह ने भूमि विवाद की शिकायतो के निस्तारण व जनहित में कार्य करने के लिए सभी एसडीएम को चेतावनी के साथ सख्त निर्देश दिए। 
सभी तहसीलों से भूमि विवाद की सूची प्राप्त हो गयी है इसके निस्तारण के लिए सभी एसडीएम पूरी निष्ठा और ईमानदारी के साथ निस्तारण करें।इसमें पुलिस के स्तर से नोडल अधिकारी भी एसडीएम के साथ टीम बनाकर कार्य करेंगे इसमें किसी भी प्रकार की खानापूर्ति नहीं करनी स्वयं उपस्थित या तहसीलदार उपस्थित रहकर समस्याओं का निस्तारण करें तथा इसके लिए तहसील में गाड़ी रहेगी तथा चकरोड पर मिट्टी से संबंधित कार्य तत्काल मनरेगा बीडीओ के द्वारा किया जाएगा। इसमें पक्की पैमाइश की जाए तथा जो लेखपाल कार्य न करें ऐसे 5 लेखपालों के खिलाफ चार्जशीट की जाए। 
मेरे जनता दर्शन में यदि जमीन से संबंधित कोई शिकायतकर्ता आया तो आपसे मैं एक रिपोर्ट लूंगा की ये शिकायतकर्ता आपसे मिला कि नहीं। यदि मिला तो आपके द्वारा इस शिकायत का निस्तारण क्यों नहीं हुआ। 
नगर निगम,नगर पालिका व नगर पंचायत में अलाव जलाने के साथ साथ रैन बसेरे तत्काल सक्रिय किये जाए।जिसमे खाने पीने की व्यवस्था, सफाई,रजाई,कम्बल गद्दे की सही व्यवस्था होनी चाहिए तथा शासन का जो एप है उस पर फीडिंग का कार्य एडीएम वित्त की देखरेख में किया जाएगा। 
महिला समूह की महिलाओं को रोजगार देने के उद्देश्य से नगर निकाय व ब्लॉक में स्वयं सहायता समूह की महिलाओं के द्वारा बनाये जा रहे सभी उत्पादों के विक्रय के लिए जनपद में 25 आउटलेट्स खोलने के निर्देश जारी किए गए हैं। 
डीएम ने सभी एसडीएम को निर्देश दिए कि वे अपनी अपनी तहसीलो में अनाथ बच्चों को चि।त करे। सभी अनाथ बच्चों को सरकारी योजनाओं व अन्य यथासंभव संसाधनों से लाभान्वित किया जाएगा। 
एमएलसी चुनाव को लेकर सभी सेक्टर मजिस्ट्रेट अपने पुलिस अधिकारी के साथ 28 नवम्बर तक सभी बूथों का निरीक्षण करें और यदि कोई समस्या बूथ पर है तो उसकी सूचना चुनाव कार्यालय में अवश्य उपलब्ध करा दें जिससे उस समस्या का समाधान समय से करा दिया जाए। मा. निर्वाचन आयोग की प्रक्रिया के अनुसार ही सभी सेक्टर मजिस्ट्रेट व पुलिस अधिकारी एमएलसी चुनाव सम्पन्न कराएंगे तथा डीआईओस स्कूल व कॉलेज के मतदान केंद्रों पर चुनाव कराने बाले स्टाफ के लिए खाने पीने रहने की बेहतर व्यवस्था करे। 
मुख्य विकास अधिकारी ने अवगत कराया कि जनपद में प्राथमिक एवं द्वितीय संपर्कियों की सैम्पलिंग ठीक प्रकार से नही हो रही है। जिस पर अधोहस्ताक्षरी द्वारा नाराजगी व्यक्त की गई। निर्देश दिये गये कि मुख्य चिकित्साधिकारी निगरानी समितियों द्वारा बाहर से आने वाले कितने लोगों को ट्रेस किया तथा दिल्ली से आने वाले कितने व्यक्तियों के कोविड-19 की जॉच कराई गई है। की सूचना अधोहस्ताक्षरी को तत्काल उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। अधोहस्ताक्षरी के द्वारा निर्देश दिये गये कि कोविड-19 से संक्रमित व्यक्तियों के आवास के आस-पास कोविड-19 की जॉच की निगरानी प्रभारी अधिकारी, इन्ट्रीगेटिड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर के द्वारा की जायेगी। प्रभारी अधिकारी कोविड-19 से संक्रमित मरीजों के आवास के 200 मीटर की परधि में अथवा पूरे कॉलोनीध्मोहल्लाक्षेत्र में हो रही कोविड-19 की जॉच की निगरानी सुनिश्चित करें। सैम्पलिंग के दौरान लक्षण सहितध्लक्षण रहितध्अन्य गम्भीर बीमारियों से ग्रसित व्यक्तियों की आवश्यक रूप से सूचना अंकित की जाये। इस कार्य को अपर जिलाधिकारी(प्रशासन) अपने निर्देशन में सम्पादित करायें तथा शहर में समस्त थानावार मजिस्ट्रेट एवं ग्रामीण क्षेत्रों में समस्त उप जिलाधिकारी अपने क्षेत्र में शत प्रतिशत सैम्पलिंग कराया जाना सुनिश्चित करें।