शिक्षक की शर्मसार करने वाली करतूत:भोपाल में कोचिंग संचालक ने 10वीं की छात्रा से दुष्कर्म किया; जान से मारने की धमकी देकर डेढ़ महीने तक की ज्यादती

आरोपी कोचिंग संचालक डेढ़ महीने से छात्रा से दुष्कर्म कर रहा था। 
आरोपी ने न्यू ईयर का जश्न मनाने के नाम पर छात्रा को फंसाया था

भोपाल में एक कोचिंग संचालक ने शिक्षक और छात्रा के रिश्तों को शर्मसार कर दिया। आरोपी ने नए साल का जश्न मनाने के नाम पर 10वीं की छात्रा से ना केवल दुष्कर्म किया, बल्कि डरा-धमकाकर करीब डेढ़ महीने तक उसका शारीरिक शोषण करता रहा। इससे छात्रा मानसिक तनाव में आ गई थी। बेटी की हालत देख जब मां ने उससे पूछताछ की तो यह खुलासा हुआ। कोचिंग संचालक अब फरार है।

शिव नगर में रहने वाली 16 वर्षीय छात्रा कक्षा 10वीं में पढ़ती है। उसने छोला मंदिर पुलिस को बताया कि वह 80 फीट रोड पर विनोद गौर कोचिंग क्लास है। वह उसमें कोचिंग पढ़ती थी। उसे विनोद गौर सर पढ़ाते थे। 31 दिसंबर 2020 को विनोद सर ने कहा कि आज नया साल है। उन्होंने जश्न मनाना शुरू कर दिया। मना करने पर बोले यह सभी मनाते हैं।

उन्होंने फायदा उठाकर जबरन दुष्कर्म किया। मना करने और रोने पर उन्होंने धमकाते हुए कहा कि अगर उसने किसी को कुछ बताया, तो वह उसे जान से मार देंगे। उसके बाद विनोद सर लगातार डेढ़ महीने तक दुष्कर्म करते रहे। वह कोचिंग जाने से डरने लगी थी, लेकिन मम्मी, पापा के डर से वह कोचिंग जाती रही। लॉकडाउन के दौरान भी वे उसे वहां बुलाते थे।

इस कारण हो सका खुलासा

मां ने पुलिस को बताया कि उनकी बेटी काफी दिनों से गुमसुम रह रही थी। किसी से ज्यादा बात नहीं करती थी और न ही कहीं जाती थी। कोचिंग का समय आने पर वह ज्यादा ही डरने लगती थी। बेटी की इस स्थिति को देखते हुए मां ने उससे गुरुवार को अच्छे से बातचीत कर उसके तनाव का कारण पूछा, तो वह रोने लगी। उसने बताया कि कोचिंग में विनोद सर उसके साथ गलत काम करते हैं। विनोद फरार हो गया। पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है।

पुलिस कोचिंग की अन्य छात्राओं के संपर्क में

कोचिंग में रेप का मामला सामने आने के बाद से पुलिस हैरान है। मामले की जड़ तक जाने और आरोपी का पता लगाने के लिए पुलिस अब कोचिंग में पढ़ने वाली छात्राओं से भी संपर्क कर रही है। पुलिस को आशंका है कि हो सकता है कि आरोपी ने कुछ और छात्राओं से भी इसी तरह डरा धमका कर दुष्कर्म किया हो। हालांकि आरोपी के बारे में पूरी जानकारी उसके पकड़े जाने के बाद ही चल सकेगी।