लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने आज (रविवार को) विपक्ष पर निशाना साधा. सीएम योगी ने लखनऊ के पंचायत भवन में पिछड़ा वर्ग (OBC) के सामाजिक प्रतिनिधि सम्मेलन (Samajik Pratinidhi Sammelan) का उद्घाटन किया. वहां संबोधन में सीएम योगी ने विपक्ष की खामियों को गिनाया.

विपक्ष ने किया सिर्फ अपने परिवार का विकास
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 2014 में नारा लगा था 'सबका साथ सबका विकास' उससे पहले जिन लोगों ने देश और राज्य में शासन किया था उनका नारा होता था 'सबका साथ लेकिन उनके परिवार का विकास'. अपने परिवार के विकास के अलावा उन लोगों की समाज और राष्ट्र के प्रति कोई चिंता नहीं थी.

दंगों में थी पिछली सरकारों की फितरत
सीएम योगी ने कहा कि जब पर्व और त्योहार आते थे, जब कमाई करनी होती थी, जब आस्था का सम्मान करना होता था तब प्रदेश में कर्फ्यू लग जाता था, दंगे होते थे. पिछली सरकारों की फितरत दंगों में थी. वे दंगाइयों को आगे बढ़ाने का काम करते थे. 4.5 साल में UP में एक भी दंगा नहीं हुआ है.

राज्य में बन रहे 42 लाख आवास
उन्होंने आगे कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का सपना है कि आवास सबको मिले, बिजली सबको मिले. पीएम मोदी पिछले 7 साल से इसी पर काम कर रहे हैं. यूपी में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 42 लाख आवास बनाए जा रहे हैं. जिन लोगों के घर में शौचालय नहीं था, उनके लिए शौचालय की व्यवस्था की गई. प्रदेश में 2 करोड़ 61 लाख शौचालय बनाए जा चुके हैं. अब ग्रामीण क्षेत्रों में सामुदायिक शौचालय बनाने का काम हो रहा है.