भोपाल। उपचूनाव की तैयारियो के बीच ही कांगेस-भाजपा के बीच जमीनी जंग भी जारी है। इसी कडी मे प्रदेश में शराब बिक्री मामले में सीएम शिवराज सिंह का फेक वीडियो ट्वीटर पर शेयर करने को लेकर परेशानी मे घिरे पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह अपनी शिकायत लेकर बुधवार को उसी क्राइम ब्रांच थाने में समर्थकों के साथ पहुंचे, जहां उनके खिलाफ दो दिन पहले मामला दर्ज हुआ था। दिग्विजय ने राहुल गांधी के एडिटेड वीडियो को शेयर करने को आधार बनाकर सीएम शिवराज सिंह के खिलाफ शिकायत की है। दिग्विजय का कहना था कि अगर मेरे खिलाफ एफआईआर हुई है, तो शिवराज के खिलाफ भी मामला दर्ज होना चाहिए। साथ ही दिग्विजय सिंह ने चेतावनी भी दी कि अगर पुलिस केस दर्ज नहीं करती है, तो मैं इसके लिए कोर्ट जाऊंगा, ओर जब तक मेरी शिकायत पर कार्रवाई नहीं की जाएगी, तब तक मेरा संघर्ष जारी रहेगा। जानकारी के अनुसार पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह बुधवार सुबह करीब 11 बजे अपने समर्थकों के साथ एमपी नगर स्थित क्राइम ब्रांच थाने पहुंचे। उनके पहुंचने से पहले दिग्विजय सिंह के बेटे जयवधर्न सिंह, पीसी शर्मा, कैलाश मिश्र समेत अन्य नेता भी आ गए थे। दिग्विजय सिंह क्राइम ब्रांच ऑफिस के अंदर गए, जहॉ एसपी साउथ और दिग्विजय के बीच शिकायत को लेकर बातचीत हुई। बाद मे बाहर आकर दिग्विजय ने मीडीया से बातचीत के दौरान कहा कि उन्होने एसपी से मामले की जांच पूरी होने तक गिरफ्तारी रोके जाने की मांग की है। इसके साथ ही शिवराज सिंह समेत दो लोगों पर राहुल गांधी के वीडियो को एडिटेड कर सोशल मीडिया पर चलाने के मामले में एफआईआर दर्ज करने के लिए आवेदन दिया है।  गोरतलब है कि अपनी शिकायत को लेकर दिग्विजय 16 मई 2019 के उस वीडियो का हवाला दे रहे हैं, जिसमें शिवराज ने राहुल गांधी का एक एडिटेड वीडियो शेयर किया था। शिवराज ने कहा था- ‘अरे यह क्या? राहुलजी भाषण में ही सही, समय पर किसान कर्ज माफी ना करने पर आखिरकार आपने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री बदल ही दिए। क्या बात है, आप ऐसे महान व्यक्ति हैं, जो बड़े काम चुटकी में कर सकते हैं।’ इस वीडीयो को लेकर आरोप है कि शिवराज ने जो वीडियो शेयर किया था, वह राहुल गांधी के भाषण का छोटा-सा हिस्सा था। सोशल मीडिया पर इसे एडिट करके इस तरह से पेश किया गया ताकि सुनने में ऐसा लगे कि राहुल गांधी मप्र के मुख्यमंत्री का नाम भूल गए हैं। हालांकि इस वीडीयो मे राहुल गांधी ने कमलनाथ का नाम लिया था, लेकिन उसमें छेड़छाड़ कर इस तरह एडिटिंग की गई थी कि वो भूपेश बघेल को मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री बोलते सुनाई दे रहे थे।  वही इस हाईप्रोफाईल राजनैतिक मामले मे आला अधिकारियो का कहना है कि दिग्विजय सिंह ने सीएम शिवराज सिंह के खिलाफ शिकायत की है। उनकी शिकायत पर कानूनी सलाह के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ दिग्विजय के खिलाफ मामले के कानूनी पहलुओं को देखा जा रहा है।