मुंबई. महाराष्ट्र में गुरुवार सुबह तक कोरोना वायरस से संक्रमण के 6,603 नये मामले सामने आए, जिन्हें मिलाकर प्रदेश में कुल संक्रमितों की संख्या 2,23,724 हो गई। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, इस अवधि में 198 कोविड-19 मरीजों की मौत हुई है जिन्हें मिलाकर इस महामारी में अब तक जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 9,448 हो गई है। इस अवधि में 4,634 लोगों को संक्रमण मुक्त होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दी गई। महाराष्ट्र में 1,23,192 कोरोना वायरस मरीज ठीक हो चुके हैं।
स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, इस समय महाराष्ट्र में 91,084 एक्टिव केस हैं। महाराष्ट्र में अब तक कुल 11,61,311 लोगों की जांच की जा चुकी है
मुंबई के मलाड इलाके में चेकिंग के लिए पहुंचे स्वास्थ्यकर्मी एक टेबल फैन के सामने बैठे हुए।
राज्य में 5713 पुलिसकर्मी अब तक हुए कोरोना संक्रमित
महाराष्ट्र में 278 पुलिसकर्मियों में कोविड-19 की पुष्टि होने से पुलिसबल में संक्रमित कर्मियों की संख्या 5,713 हो गई है। एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि कोरोनावायरस संक्रमण से अब तक 71 पुलिसकर्मियों की मौत हो चुकी है। उन्होंने बताया कि मुंबई में सबसे ज्यादा 43 पुलिसकर्मियों की मौत हुई है। मृतकों में दो अधिकारी भी शामिल हैं। संक्रमण से अब तक 4531 पुलिसकर्मी ठीक हो चुके हैं
मुंबई के अंबुजवाड़ी इलाके घर-घर जाकर लोगों की जांच करते बीएमसी के स्वास्थ्यकर्मी। 
धारावी में अब 329 संक्रमित मरीज बचे 
मुंबई की झुग्गी-बस्ती धारावी में बुधवार को कोविड-19 के तीन नए मामले सामने आए, जिससे इस घनी आबादी वाले क्षेत्र में इसके कुल मामले बढ़कर 2,338 हो गए। मंगलवार को धारावी में मात्र एक नया मामला सामने आया था। एक समय धारावी हॉटस्पॉट क्षेत्र बना हुआ था। बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि धारावी में मात्र 329 उपचाराधीन मामले हैं, जबकि 1,768 मरीजों को ठीक होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है।
आर्थर रोड जेल में 181 में से 177 कैदी ठीक हुए 
मुंबई की आर्थर रोड जेल में कोरोना संक्रमित हुए 181 में से 177 कैदी अब ठीक हो गए हैं। आर्थर रोड जेल महाराष्ट्र की पहली ऐसी जेल थी जिसमें कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे थे, लेकिन कोविड प्रोटोकॉल के कड़ाई से पालन करने से स्थिति बदल गई। जेल अधिकारियों को उम्मीद है कि अन्‍य चार की भी एक सप्ताह के अंदर  कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आएगी।
अगले 3 महीने तक 5 रुपए में शिवभोजन थाली मिलेगी
महाराष्ट्र सरकार ने बुधवार को फैसला किया कि 5 रुपए में शिवभोजन थाली की व्यवस्था अगले तीन महीनों के लिए जारी रहेगी। शिवसेना नेतृत्व वाली सरकार ने गरीबों को 10 रुपये मूल्य पर भोजन की थाली मुहैया कराने के लिए शिवभोजन योजना शुरू की थी। कोरोना संकट के कारण लोगों की परेशानी के मद्देनजर सरकार ने अप्रैल में पांच रुपए में थाली उपलब्ध कराने का फैसला किया।
आज से बेस्ट बसों के पास का होगा रिन्यूअल
9 जुलाई यानी की आज से बेस्ट की बसों के पास का नवीनीकरण (रिन्यूअल) शुरू किया जाएगा। आज से नए बेस्ट के पास को जारी करना भी शुरू किया जाएगा। बेस्ट ने एक प्रेस रिलीज जारी करते हुए कहा कि 8 जून को 'मिशन बिगन अगेन' के तहत कई कंपनियों और कार्यलयों को सीमित कर्मचारियों के साथ काम करने की अनुमति दी गई है। लिहाजा, अब बेस्ट ने भी लोगों के लिए बेस्ट बसों की सेवा शुरू कर दी है।
मुंबई के इन वार्ड में बढ़ें कोरोना के केस 
मुंबई में कोरोना संक्रमितों की संख्या पिछले कुछ दिनों से तेजी से बढ़ रही है। मुंबई में नए मामलों की वार्ड-वार वृद्धि दर वर्तमान में 1.58 प्रतिशत है। हालांकि, शहर के दस वार्डों की औसत विकास दर मुंबई के समग्र औसत दर से ज्यादा है। पिछले सात दिनों के यानी 6 जुलाई 2020 तक के आंकड़ों में कहा गया है कि, वार्ड-टी (मुलुंड) की वृद्धि दर 3.4 प्रतिशत है। वार्ड आर- उत्तर, मध्य और दक्षिण (दहिसर, बोरीवली और कांदिवली) के सभी तीन इलाके कोरोना हॉटस्पॉट बने हुए हैं। इन तीनों में, वार्ड आर-सेंट्रल (बोरीवली) की कोरोना विकास दर सबसे अधिक है जो 3.2 प्रतिशत है। इसके बाद आर-नॉर्थ (दहिसर) में कोरोना वृद्धि दर 2.8 प्रतिशत है जबकि आर-साउथ (कांदिवली) इलाके में 2.5 प्रतिशत है तो वहीं पी-नॉर्थ (मलाड) में 2.3 फीसदी है।
अब इन बैंकों में सरकारी बैंकिंग व्यवहार हो सकेगा
राज्य की प्रादेशिक ग्रामीण बैंक, आईडीबीआई बैंक और राज्य की 'अ' वर्ग की 15 जिला मध्यवर्ती सहकारी बैंकों को सरकारी बैंकिंग व्यवहार करने को राज्य मंत्रिमंडल ने मंजूरी दी है। सरकारी बैंकिंग व्यवहार करने के लिए अकोला, भंडारा, चंद्रपुर और गडचिरोली, लातूर, सिंधुदूर्ग, अहमदनगर, पुणे, सातारा, मुंबई, ठाणे, रायगड, रत्नागिरी, सांगली, कोल्हापुर जिला मध्यवर्ती सहकारी बैंक को अनुमति दी गई है। 
दूध को पाउडर में बदलने की योजना की अवधि 31 जुलाई तक 
राज्य में अतिरिक्त दूध का बदलाव दूध पाउडर में करने की योजना की अवधि को 31 जुलाई तक बढ़ाने को राज्य मंत्रिमंडल ने मंजूरी दी है। इससे जुलाई महीने में लगभग हर दिन 5.14 लाख लीटर के अनुसार 1.60 करोड़ लीटर दूध की खरीदी सरकार के जरिए की जाएगी। इसके लिए 51.22 करोड़ रुपए का फंड मंजूर किया गया है। सरकार ने अप्रैल महीने में किसानों से दूध खरीदकर पावडर बनाने की योजना शुरू की थी।
इस योजना की अवधि 30 जून को खत्म हो गई थी। जिसके बाद अब योजना को शुरू रखने का फैसला किया गया है। पूरी योजना के तहत 6 लाख लीटर दूध खरीदा जाएगा। इसके लिए 190 करोड़ रुपए की निधि उपलब्ध कराई जाएगी। राज्य में कोरोना के चलते लॉकडाउन होने से हर दिन 17 लाख लीटर दूध कम बिक रहा है।