शहर में कोरोना का असर कम हो रहा है। अन्य महानगरों की तुलना में सूरत की स्थिति ज्यादा गंभीर नहीं है। शनिवार दोपहर तक शहर में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 1465 और कुल मरीज की संख्या 20318 है। हालांकि सूरत शहर में अभी तक 666 लोगों की मौत हो चुकी है। सूरत शहर के सरकारी और निजी अस्पतालों में 1820 लोगों का कोरोना का इलाज चल रहा है।

इनमें बाहर के भी करीब 20 प्रतिशत मरीज हैं। प्रदेश के चार महानगरों में अहमदाबाद में 3741 एक्टिव केस दर्ज है। जबकि वडोदरा में 1545 और सूरत में इन दोनों शहरों से कम 1465 एक्टिव केस है। राजकोट में एक्टिव केसों की संख्या 967 है। कोरोना के कारण सूरत शहर में शनिवार दोपहर 666 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि अहमदाबाद में 1751, वडोदरा में 190, और राजकोट में 95 लोगों ने कोरोना से जान गंवाई है। इधर, सूरत जिले में रविवार को कोरोना संक्रमित 28 हजार के पार हो जाएंगे। वहीं, ठीक होने वाले अब साढ़े 24 हजार के पार हो गए हैं। प्रदेश में शनिवार को 1417 मरीज आए जबकि ठीक होने वालों की संख्या 1419 रही। 13 और लोगों की कोरोना से जान चली गई। इसी के साथ प्रदेश में कोरोना से मरने वालों की संख्या 3409 हो गई।