• किसानों को तीनों कृषि कानूनों की हकीकत बताने के साथ फसल बीमा नहीं मिलने का उठाया जाएगा मुद्दा


भोपाल । खंडवा संसदीय क्षेत्र सहित पृथ्वीपुर, जोबट और रैगांव विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस किसान चौपाल लगाएगी। इसकी शुरुआत 20 अक्टूबर से होगी। प्रत्येक निर्वाचन क्षेत्र में दो दिन तक चौपाल लगेगी। इसमें किसान कांग्रेस के पदाधिकारी किसानों से सीधा संवाद करेंगे और तीनों कृषि कानूनों की हकीकत बताएंगे। साथ ही अतिवर्षा से फसलें प्रभावित होने पर अब तक मुआवजा नहीं देने और पिछले साल का फसल बीमा अब तक नहीं देने का मुद्दा उठाया जाएगा। चौपाल में कांग्रेस सरकार में लागू की गई किसान कर्ज माफी योजना के बारे में भी किसानों को अवगत कराएगी। प्रदेश किसान कांग्रेस के अध्यक्ष दिनेश गुर्जर ने बताया कि 20 अक्टूबर को रैगांव विधानसभा क्षेत्र से किसान चौपाल लगाने की शुरुआत की जाएगी। पहले दो दिन इसी विधानसभा क्षेत्र के अलग-अलग गांवों में किसानों से सीधा संवाद किया जाएगा। 22 और 23 अक्टूबर को पृथ्वीपुर विधानसभा क्षेत्र में यह आयोजन होगा। इसके साथ-साथ प्रदेश पदाधिकारी खंडवा संसदीय क्षेत्र और जोबट में किसान चौपाल लगाएंगे। इसमें बताया जाएगा कि जब कांग्रेस की सरकार थी तो किसान तरह किसानों को राहत पहुंचाने के लिए कमल नाथ सरकार ने कर्ज माफी योजना लागू की थी। 27 लाख किसानों को इसका लाभ भी मिल चुका है और दूसरा चरण आगे बढ़ाया जा रहा था पर भाजपा ने षडयंत्रपूर्वक हमारी सरकार गिरा दी। कर्ज माफी दी जाएगी या नहीं, इसका भी सरकार कोई जवाब नहीं देती है।

बिजली और खाद की किल्लत बड़ा मुद्दा
उधर, बिजली के बिलों में राहत देने के लिए भी योजना लागू की थी पर जब से भाजपा सरकार आई है तब से बिजली के बढ़े हुए बिल दिए जा रहे हैं। किसानों के ऊपर आर्थिक बोझ बढ़ाती जा रही है। पहले किसानों को सम्मान निधि दी जाती है और फिर वसूली के नोटिस थमाकर उसका अपमान किया जाता है। खाद का संकट बना हुआ है। समितियों में सामग्री ऋण पर खाद जरूरत के मुताबिक नहीं मिल रही है। पिछले साल की खरीफ फसलों का बीमा भुगतान अब तक नहीं हुआ है। तीनों कृषि कानूनों को किसान हितैषी बताया जा रहा है पर हकीकत में यह आम किसान विरोधी हैं।

कमल नाथ खंडवा से प्रारंभ करेंगे चुनाव अभियान
उधर, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मंगलवार को खंडवा संसदीय क्षेत्र से चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत करेंगे। वे दादा धूनी वाले बाबा आश्रम में दर्शन करने के बाद प्रबुद्धजनों के साथ चर्चा करेंगे। इसके बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों के साथ बैठक करके कांग्रेस प्रत्याशी राजनारायण सिंह पूरनी के पक्ष में सभा को संबोधित करेंगे।