प्रयागराज। पीलीभीत से बीजेपी सांसद वरुण गांधी के कांग्रेस में शामिल होने की अटकलों से उत्साहित होकर कांग्रेस नेता इरशाद उल्ला द्वारा पोस्टर जारी करने के मामले में उनकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं। वरुण गांधी के साथ कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी का पोस्टर सोशल मीडिया पर वायरल करने के मामले में पार्टी ने कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया है। दरअसल शहर कांग्रेस सचिव इरशाद उल्ला ने एक विवादित पोस्टर जारी किया, इसमें बीजेपी सांसद वरुण गांधी और सोनिया गांधी को साथ में दिखाया गया है और पोस्टर में लिखा गया है स्वागतम। इसके साथ ही साथ पोस्टर में लिखा है- दुख भरे दिन बीते रे भैया, अब सुख आयो रे। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस पोस्टर का पार्टी ने संज्ञान ले लिया है।
  शहर कांग्रेस उपाध्यक्ष प्रदीप नारायण द्विवेदी ने नोटिस जारी कर पोस्टर जारी करने वाले कांग्रेस नेता इरशाद उल्ला से जवाब मांगा है। इस पोस्टर में इरशाद उल्ला ने वरिष्ठ नेता बाबा अभय अवस्थी की भी तस्वीर लगाई है। वहीं शहर कांग्रेस अध्यक्ष नफीस अनवर ने भी पोस्टर का संज्ञान लिया है। उन्होंने कहा है कि वरुण गांधी अभी भी बीजेपी के सांसद हैं। नफीस अनवर ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी को बदनाम करने के लिए साजिश रची गई है। शहर कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा है कि संतोषजनक जवाब न देने पर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा है कि सही ढंग से पक्ष नहीं रखने पर इरशाद उल्ला को पार्टी की सदस्यता और पद से बर्खास्त किया जाएगा।