भोपाल। भारतीय जनता पार्टी उपचुनाव में शानदार सफलता प्राप्त करने जा रही है। भाजपा की उसी जीत के पूर्वानुमान से कांग्रेस पार्टी और उसके कमलनाथ जैसे नेता बौखला गए हैं। ये नेता भाजपा पर निराधार आरोप लगा रहे हैं। इन नेताओं ने कांग्रेस की करारी हार की भूमिका पहले से बनाना शुरू कर दी है। यह बात मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान एवं पार्टी प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने शनिवार को विधानसभा प्रभारी, सह प्रभारी एवं विस्तारकों की बैठक के उपरांत मीडिया से चर्चा करते हुए कही।

खुद धमकाएं तो मैनेजमेंट, विधायक पार्टी छोड़े तो गद्दारीः चौहान
मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि कांग्रेस के कमलनाथ और दिग्विवजय सिंह जैसे नेता भारतीय जनता पार्टी पर जोड़-तोड़ करने का आरोप लगाते हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जब कमलनाथ स्वयं भाजपा के विधायकों को डराने-धमकाने का काम करते है तो उसे मैनेजमेंट बताते हैं। लेकिन जब कोई विधायक स्वेच्छा से कांग्रेस पार्टी छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में शामिल होता है, तो कमलनाथ और कांग्रेस के लोग उसे गद्दारी बताते हैं। श्री चौहान ने कहा कि आज भी कमलनाथ भाजपा के विधायकों को फोन करने, किसी भी तरह उनसे संपर्क करने का असफल प्रयास कर रहे हैं।

कमलनाथ ने गंदी की प्रदेश की राजनीति
श्री चौहान ने कहा कि जोड़, तोड़ और खरीद फरोख्त की राजनीति कमलनाथ ने शुरू की है और वही मध्यप्रदेश की राजनीति में गंदगी लेकर आए हैं। प्रदेश में यह गंदा खेल कमलनाथ ने ही शुरू किया है। उन्होंने भ्रष्टाचार का लोकव्यापीकरण कर दिया और राजनैतिक भ्रष्टाचार की शुरूआत कमलनाथ ने मध्यप्रदेश की धरती से की है। श्री चौहान ने कहा कि भाजपा के कार्यकर्ता सिद्धांत और विचारों के लिए काम करते हैं। कमलनाथ जैसे लोग कितनी ही कोशिश कर लें, हमारे विधायकों को तोड़ने का कितना भी प्रयास कर लें, हमारे विधायक टस से मस नहीं होंगे। 

सभी 28 सीटों पर जीत हासिल करेगी भाजपाः विष्णुदत्त शर्मा
भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि आज विधानसभा के प्रभारी, सह प्रभारी, जिलाध्यक्ष एवं विस्तारकों की बैठक संपन्न हुई है। सभी पदाधिकारियों से लिए गए फीडबैक के आधार पर यह कहा जा सकता है कि भारतीय जनता पार्टी सभी 28 विधानसभा क्षेत्रों में जीत हासिल करेगी और यह पार्टी कार्यकर्ताओं के अथक परिश्रम से संभव होगा।

हार का ठीकरा फोड़ने सिर ढूंढ रहे दिग्विजय
श्री शर्मा ने कहा कि कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह प्रत्येक चुनाव से पहले ही आरोप लगाने लगते है कि ईवीएम की चिप गायब हो सकती है। कमलनाथ कह रहे हैं कि पुलिस और प्रशासन का दुरूपयोग हो रहा है। फिर कहते हैं मतगणना में यह सब हो सकता है। श्री शर्मा ने कहा कि कांग्रेस जब हारने लगती है तो हार का ठीकरा किसके फोड़ा जाए, उसकी तलाश शुरू कर देती है। कांग्रेस के लोग ईवीएम को दोष देते हैं, प्रशासन पर आरोप लगाते हैं। इस बार भी दिग्विजय सिंह और कमलनाथ जो आरोप लगा रहे हैं, उनसे यह तय हो गया है कि कांग्रेस ने अपनी हार स्वीकार कर ली है और भाजपा की जीत सुनिश्चित है। श्री शर्मा ने कहा कि अगर कोई पदाधिकारी, कार्यकर्ता पार्टी के विरोध में काम करता है तो भाजपा उसे गलत काम नहीं करने देगी। उन्होंने कहा कि 100 में से 99 लोग अच्छा काम कर रहे हैं और अगर एक व्यक्ति गलत काम करता है तो उसे स्वीकार नहीं किया जायेगा।