नई दिल्ली| चीन की राजधानी बीजिंग में 2022 में शीतकालीन ओलंपिक का आयोजन होना है। लेकिन उससे पहले अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) ने स्टेडियमों में दर्शकों की एंट्री को लेकर बड़ा एलान किया है। इसके मुताबिक कोरोना महामारी की वजह से शीतकालीन ओलंपिक में चीन के अलावा किसी दूसरे देश के लोगों को स्टेडियमों में एंट्री नहीं मिलेगी। 'इन खेलों में सिर्फ उन्हीं खिलाड़ियों को 21 दिन के क्वारंटीन से राहत दी जाएगी जिन्होंने पूरी तरह से टीकाकरण करवा लिया है। समिति ने हालांकि दुनियाभर के प्रशंसकों की नाराजगी को स्वीकार किया लेकिन साथ ही ओलंपिक में दर्शकों को एंट्री देने के फैसले का स्वागत भी किया। उसने कहा कि इस फैसले से चीन में शीतकालीन खेलों को बढ़ावा देने में मदद मिलेगी।  शीतकालीन खेलों में भाग लेने वाले सभी खिलाड़ियों और स्टाफ की रोजाना जांच होगी। गौरतलब है कि 31 जुलाई 2015 को 2022 ओलंपिक शीतकालीन खेलों के लिए बोली जीतने के बाद, चीन की राजधानी बीजिंग ओलंपिक खेलों के ग्रीष्मकालीन और शीतकालीन दोनों संस्करणों की मेजबानी करने वाला दुनिया का पहला शहर बन गया है।बात करें  टूर्नामेंट की तो यह अगले साल चार फरवरी से शुरू होगा और शीतकालीन पैरालंपिक खेलों के साथ 13 मार्च को समाप्त होगा।