बिलासपुर ।  ज़मीन के छोटे से टुकड़े के  लिए भाई- भाई के जान का दुश्मन बन जाता है. बस यही कारण था, चकरभाठा में हुई हत्या के मामले में,इस हत्याकांड में सौतेले भाइयों ने अपने भाई को ही उतार दिया  मौत के घाट।
 चकरभाठा थाना क्षेत्र के शराब भ_ी के पास हुए हत्या के मामले को पुलिस ने सुलझा लिया है, 22 फरवरी की सुबह मिली लाश की पहचान खेकसही निवासी रामायण यादव पिता गंगाराम यादव 55 वर्ष के रूप में हुई थी, वही पुलिस की पूछताछ में यह पता चला था कि मृतक का संपत्ति को लेकर अपने सौतेले भाइयों से विवाद है।
लिहाजा पुलिस की शक की सुई भी सौतेले भाइयों सुखनंदन यादव और रघुनाथ यादव पर गई और उन्हें पकड़कर जब पूछताछ की गई तो उनके बयान से पुलिस को अहम सुराग मिले, जिसमें पता चला कि उक्त संपत्ति को लेकर उनका विवाद था जिससे दोनों भाई परेशान थे, जो पूर्व में ही मृतक को रास्ते से हटाने ठान चुके थे.
और घटना वाली रात उनकी मुलाकात शराब भ_ी के पास हो गई, जहाँ उन्होंने हाथ घूंसों से पहले मृतक की पिटाई की फिर सीमेंट के पत्थर से सिर में वार कर उसे मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने दोनों आरोपियों को धारा 302 के तहत गिरफ्तार कर लिया है, जिनसे घटना में प्रयुक्त बाइक, सीमेंट का पत्थर और खून से रंगे कपड़े बरामद कर लिए है।