भोपाल। देश भर में लॉकडाउन के दौरान गरीब मजदूरों के लिए मसीहा बने सोनू सूद से अब मध्य प्रदेश के पूर्व मंत्री और वरिष्ठ भाजपा विधायक राजेन्द्र शुक्ल ने मुंबई में फंसे रीवा ‑सतना के मजदूरों को वापस मध्य प्रदेश लाने के लिए मदद मांगी है। उन्होंने सोनू सूद को प्रवासी मजदूरों की पूरी लिस्ट भेज दी है। हालांकि ट्वीट को लेकर भाजपा विधायक फंस गए और कांग्रेस द्वारा सरकार पर तंज कसने के बाद राजेन्द्र शुक्ल ने ट्वीट को डिलीट कर दिया है, लेकिन सोनू सूद ने उन्हें मदद का आश्वासन दिया है।

भाजपा विधायक के इस ट्वीट पर कांग्रेस ने शिवराज सरकार को घेरा है। वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा कि ‘मध्य प्रदेश की कड़वी सच्चाई को उजागर करता राजेंद्र शुक्ल का यह ट्वीट। शिवराज जी देख लीजिए पूर्व मंत्री एवं वर्तमान रीवा से भाजपा विधायक को आपकी सरकार पर भरोसा नहीं रहा तो उन्हें मुंबई में फंसे प्रवासी मज़दूरों के लिए मज़बूरी में एक्टर सोनू सूद से मदद लेनी पड़ रही है’।

दरअसल, भाजपा विधायक राजेन्द्र शुक्ल ने एक सूची जारी कर ट्वीट कर लिखा ‘ सोनू सूद जी ये रीवा/सतना मप्र निवासी काफी दिनों से मुम्बई में फंसे हुए हैं और अभी तक वापस नहीं पहुंच पाए हैं। कृपया इनको वापस लाने में हमारी मदद करें’। भाजपा विधायक के ट्वीट का जवाब देते हुए अभिनेता सोनू सूद ने रिट्वीट कर मदद का आश्वासन देते हुए मप्र आने पर पोहा खिलाने की फरमाईश कर दी। उन्होंने जवाब में लिखा ‘सर अब कोई भई कहीं नहीं फंसेगा। आपके प्रवासी भाई कल आपके पास भेज देंगे सर. कभी मप्र आया तो पोहा ज़रूर खिलाना’। अभिनेता सोनू सूद से आश्वासन मिलने के बाद राजेन्द्र शुक्ल ने एक और ट्वीट किया और उनको धन्यवाद करते हुए लिखा कि ‘धन्यवाद सोनू सूद, विन्ध्य की पावन भूमि में आपका हमेशा स्वागत है। मुंबई में अभी बचे हुए 168 में से करीब 55 लोगों को भिजवा दिया गया है, करीब 113 लोग बचे हुए हैं जिन्हें सकुशलता से भिजवाने के लिए मैं आपको अग्रिम धन्यवाद व भविष्य के लिए शुभकामनाएं देता हूं। हालांकि ट्वीट को लेकर कांग्रेस द्वारा घेराव करने के बाद राजेन्द्र शुक्ल ने अपने ट्वीट डिलीट कर दिए।