शहर के कारोबारियों ने बढ़ते कोरोना संक्रमण के कारण प्रशासन के सामने दुकानें जल्दी बंद करने का वादा तो किया, लेकिन बाजार में इस पर अमल नहीं हो रहा। बुधवार को ज्यादातर बाजार रात तक खुले नजर आए। सोमवार-मंगलवार को कलेक्टर मनीष सिंह के साथ बैठक में व्यापारियों ने सप्ताह में दो दिन बाजार बंद रखने के साथ प्रत्येक दिन शाम 6 बजे दुकानें बंद करने की बात कही थी।

बुधवार शाम जेल रोड और कपड़ा मार्केट में दुकानें 7 बजे तक बंद हो गईं, जबकि अन्य सभी प्रमुख बाजारों में रात 9 बजे और उससे भी देर तक दुकानें खुली रहीं। बाजार खुलने का समय और दिन कम करवाने की मुहिम की अगुआई कर रहा व्यापारी संगठन अहिल्या चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री व्यापारियों से बाजार बंद करने की लिखित सहमति जुटाने में लगा रहा। गुरुवार को चैंबर के पदाधिकारी सभी सहमति पत्र इकट्ठे कर कलेक्टर को सौंपेंगे।

रविवार बंद रहेगी फल मंडी

इधर, फ्रूट मार्केट व्यापारी एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रकाश परिडवाल और भाजपा व्यापारी प्रकोष्ठ के उपाध्यक्ष नरेंद्र फुंदवानी ने घोषणा की कि मंडी फल व्यापारी रविवार को मंडी में कामकाज बंद रखेंगे। खराब होने वाली वस्तु के चलते दो दिन का बंद फ्रूट मार्केट में संभव नहीं है।