दुबई । यमन के ईरान समर्थित हूती विद्रोहयों ने सऊदी अरब के एक हवाई अड्डे और सेना के एक ठिकाने पर बम लदे हुए ड्रोन से हमला किया। फिलहाल, इसमें किसी तरह के जानमाल के नुकसान की खबर नहीं है। सऊदी अरब के शहर नजरान पर यह हमला ऐसे समय हुआ है, जब ईरान ने यूरेनियम संवर्द्धन की क्षमता बढ़ाने की घोषणा की है। ड्रोन हमले के बारे में हूती के एक न्यूज चैनल ने कहा है कि उसने कासेफ-2 के ड्रोन से नजरान में एक एयरपोर्ट को निशाना बनाकर आयुध भंडार पर हमला किया। नजरान रियाद से 840 किलोमीटर दूर है। यह सऊदी अरब-यमन की सीमा के पास है। हूती विद्रोही आए दिन इस शहर को निशाना बनाते हैं। इससे पहले सऊदी की सरकारी एजेंसी ने कर्नल तुर्क अल-मलिकी के हवाले से कहा कि हूती विद्रोहियों ने नजरान में एक नागरिक स्थल को लक्ष्य बनाने की कोशिश की थी। हालांकि उन्होंने इसके बारे में विस्तृत जानकारी नहीं दी।